दा इंडियन वायर » टैकनोलजी » प्लॉटर क्या है? परिभाषा, प्रकार, कार्य
टैकनोलजी

प्लॉटर क्या है? परिभाषा, प्रकार, कार्य

प्लॉटर plotter in hindi

प्लॉटर की परिभाषा (definition of plotter in hindi)

परिभाषा – प्लॉटर एक तरह का प्रिंटर है जो की वेक्टर ग्राफिकस को छापने के काम में आता है। प्लोटर एक आउटपुट उपकरण है जो की ग्राफ और डिज़ाइन को छापने का काम करता है।

यह सामान्य रूप से बड़े आकार के ग्राफ और मैप जैसे की इंजीनियरिंग डिज़ाइन, चित्र और बड़े आकार के पोस्टर बनाने के काम आता है। डिजिटल तरीके से चलने वाले प्लोटर XY राइटर को आउटपुट उपकरण की तरह इस्तेमाल करते हैं जिससे की वह इनके माप आसनी से ले सकें।

पहले के समय में प्लोटर कम्प्युटर के सॉफ्टवेयर प्रोग्राम में काम आता था जैसे की कम्प्युटर एडेड डिज़ाइन (CAD) हालांकि इसको नए कोन्वेंशनल प्रिंटर ने हटा दिया है।

यह प्लोटर आउटपुट की छपाई देने का काम करता है। यह पेन की मदद से पन्नों पर चित्र बनाता है। प्लोटर जहाज, मशीन और बिल्डिंग के डिज़ाइन बनाने का काम करता है।

प्लॉटर के प्रकार (types of plotter in hindi)

1. ड्रम प्लोटरस (Drum plotters)

इसे हम रोलर प्लोटर के नाम से भी जानते हैं। इसमे ड्रम और रोलर होता है जिसपे पन्नों को रखा जाता है। ड्रम पीछे की तरफ घूमता है और इस पन्ने पर ग्राफ की छपाई कर देता है। इसमे एक मैकनिकल उपकरण भी होता है जिसे हम रोबोटिक ड्राइंग आर्म भी बोलते हैं जिसमे कलर इंक पेन और पेंसिल रखे जाते हैं।

जो ड्राइंग होती है वह घूमती रहती है और ग्राफ या चित्र को पन्ने पर छापती रहती है। इस तरह से एक सही ग्राफ या फिर मैप पेपर पर छाप दिया जाता है। यह काम कम्प्युटर की मदद से किया जाता है।

2. फ्लैटबेड प्लोटर (Flatbed Plotter)

इसे हम टेबल प्लोटर भी बोलते हैं। यह उस सतह पर छपाई का काम करता है जिसमे एक आयताकार टेबल पर पन्ना रखा हुआ होता है। यह दो रोबोटिक ड्राइंग आर्म का इस्तेमाल करता है दोनों में ही कलर पेन और पेंसिल होते हैं। ड्राइंग आर्म पन्ने पर घूमता है और पन्ने पर ग्राफ आसानी से बना देता है। इसका आकार बेड के जितना होता है।

प्लॉट का आकार 20 से 50 फीट तक हो सकता है। यह कार, जहाज, एयरक्राफ्ट, बिल्डिंग, हाइवे आदि के डिज़ाइन बनाने में काम आते हैं। यह प्लोटर प्रिंट और चित्र बनाने में थोड़ा समय लेता है। बड़ी एवं विचित्र काला को छापने में यह कुछ घंटे लेता है।

आजकल मैकनिकल प्लोटर की जगह थर्मल, एल्क्ट्रोस्टटिक और इंक जेट प्लोटर ने ले ली है। यह सिस्टम तेज़ के साथ साथ सस्ते भी हैं। यह भी बड़े आकार की छपाई में काम आते हैं।

प्लॉटर से सम्बंधित यदि आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

About the author

अभिषेक विजय

1 Comment

Click here to post a comment

  • Diye gaye plotter ke sabhi types me se sabse eafficient plotter konsa hota hai and plotters ke kya kya functions hote hain?

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Want to work with us? Looking to share some feedback or suggestion? Have a business opportunity to discuss?

You can reach out to us at [email protected]