Wed. Nov 30th, 2022
    priya dutt

    पूर्व कांग्रेस सांसद प्रिया दत्त जो अपने पिता सुनील दत्त के निधन के बाद उत्तर पश्चिम मुंबई सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा करती थी, ने कहा है कि वो आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी। साथ ही उन्होंने कहा है कि उन्होंने अपने फैसले के बारे में पार्टी अध्यक्ष राहुल गाँधी को बता दिया है।

    प्रिय दत्त ने पहली बार 2005 में कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ा था। उन्होंने उसी सीट से 2009 में भी जीत हासिल की थी। लेकिन 2014 में उन्हें भाजपा उम्मीदवार पूनम महाजन के हाथों हार का सामना करना पडा था।

    हालाँकि इस बार पार्टी को उम्मीद थी कि वो अपने हारें हुए कुछ सीटों पर दुबारा कब्जा कर लेगी लेकिन अब उसे किसी नए चेहरे को तलाश करना होगा।

    प्रिया दत्त ने आज जारी अपने बयान में पार्टी सहयोगियों के साथ असहमति का उल्लेख किया है। “पार्टी के उन सभी लोगों से जिनके साथ मेरी असहमति है, मुझे आशा है कि वे समझते हैं कि यह कभी व्यक्तिगत नहीं था। मैंने केवल पार्टी, कार्यकर्ताओं और अपने क्षेत्र के लिए के लिए सबसे अच्छा प्रतिनिधित्व करने का प्रयास किया है।”

    प्रिया ने कहा “मैं अपने क्षेत्र के सभी मतदाताओं से आग्रह करना चाहती हूँ कि, कृपया समझदारी से वोट दें। जबकि मैं पार्टी और उसके उम्मीदवार के लिए काम करने के लिए प्रतिबद्ध हूं, मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि मैं किसी का समर्थन नहीं करूंगा, मेरी अंतरात्मा मुझे इसकी अनुमति नहीं देती है।”

    यह कहते हुए कि उन्होंने हमेशा ईमानदारी से काम किया है, प्रिया दत्त ने कहा, “मैं हमेशा अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों के साथ ईमानदार रही हूं, यहां तक ​​कि कई बार जब सच्चाई ने मुझे चोट पहुंचाई है।”

    2014 के लोकसभा चुनाव में पूर्व भाजपा नेता प्रमोद महाजन की बेटी पूनम महाजन ने प्रिया दत्त को 1.87 लाख वोटों से पराजित किया था।

    By आदर्श कुमार

    आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *