Sat. Apr 20th, 2024
    प्रधानमंत्री मोदी ने G20 शिखर सम्मेलन के sidelines पर कई देशों के नेताओं से की द्विपक्षीय बैठकें

    प्रधानमंत्री मोदी ने नई दिल्ली में रविवार को G20 शिखर सम्मेलन के sidelines पर फ्रांस, जर्मनी, तुर्की, कनाडा, दक्षिण कोरिया और अफ्रीकी संघ के अध्यक्ष के साथ द्विपक्षीय बैठकें कीं। आइये बिंदुवार देखते हैं:

    • प्रधानमंत्री मोदी और फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन ने इस साल जुलाई में पेरिस में अपनी पिछली बैठक के बाद से द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय और क्षेत्रीय विकास पर भी विचारों का आदान-प्रदान किया। संयुक्त वक्तव्य के अनुसार, भारत और फ्रांस ने इंफ्रास्ट्रक्चर, कनेक्टिविटी, ऊर्जा, जैव विविधता, स्थिरता और औद्योगिक परियोजनाओं सहित भारत-प्रशांत क्षेत्र और अफ्रीका में आपसी साझेदारी पर अपने विचारों को आगे बढ़ाने का फैसला किया। एक सोशल मीडिया पोस्ट में, प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दोनों देशों ने कई विषयों पर चर्चा की और भारत-फ्रांस संबंधों को नए आयाम देने के लिए तत्पर हैं।

     

    • फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रॉन ने कहा कि G20 शिखर सम्मेलन ने एकता का संदेश भेजा है। उन्होंने कहा कि भारत और फ्रांस रक्षा सहयोग को और गहरा करेंगे। उन्होंने कहा कि भारत और फ्रांस दोनों ही अंतरराष्ट्रीय संस्थानों के गहन सुधारों का समर्थन करते हैं ताकि वे दुनिया के वर्तमान वास्तविकता को प्रतिबिंबित कर सकें।

     

    • प्रधानमंत्री मोदी ने तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयप एर्दोगन से भी मुलाकात की। तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा कि भारत ने ‘एक पृथ्वी, एक परिवार, एक भविष्य’ विषय पर G20 को सफलतापूर्वक संचालित किया। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) के विस्तार पर। श्री एर्दोगन ने कहा कि प्रत्येक सदस्य देश को मौका देने के लिए घूर्णी प्रणाली को अपनाया जाना चाहिए। उन्होंने भारत के UNSC में स्थायी सदस्य के रूप में उम्मीदवारी का समर्थन किया।

     

    • अफ्रीकी संघ और कोमोरोस के राष्ट्रपति अज़ाली आसौमानी के साथ बैठक में, प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें अफ्रीकी संघ के G20 के स्थायी सदस्य बनने पर बधाई दी। दोनों नेताओं ने व्यापार, निवेश और समुद्री सहयोग जैसे क्षेत्रों में भारत-कोमोरोस संबंधों को आगे बढ़ाने के बारे में भी बात की। 

     

    • प्रधानमंत्री मोदी ने कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के साथ भी द्विपक्षीय वार्ता की। दोनों नेताओं ने विभिन्न क्षेत्रों में भारत-कनाडा संबंधों के पूरे दायरे पर चर्चा की। एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, कनाडाई प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत दुनिया में एक असाधारण रूप से महत्वपूर्ण अर्थव्यवस्था है और कनाडा का एक महत्वपूर्ण भागीदार है।

     

    • द्विपक्षीय वार्ता के दौरान, जर्मन चांसलर ओलाफ शॉल्ज़ ने प्रधानमंत्री मोदी को धन्यवाद दिया कि उन्होंने G20 शिखर सम्मेलन को अपने विचारों से समृद्ध किया और कहा कि भारत और जर्मनी स्वच्छ ऊर्जा, नवाचार और पृथ्वी को एक बेहतर ग्रह बनाने के लिए मिलकर काम कर सकते हैं। प्रधानमंत्री मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति योन सुक येओल ने भी G20 शिखर सम्मेलन के sidelines पर बैठक की।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *