दा इंडियन वायर » खेल » प्रजनेश गुनेश्वरम एटीपी रैंकिंग के 100 शीर्ष खिलाड़ियो में हुए शामिल, करियर का सर्वश्रेष्ठ 97वां स्थान किया हासिल
खेल

प्रजनेश गुनेश्वरम एटीपी रैंकिंग के 100 शीर्ष खिलाड़ियो में हुए शामिल, करियर का सर्वश्रेष्ठ 97वां स्थान किया हासिल

प्रजनेश गुनेश्वरम

भारत के स्टार टेनिस खिलाड़ी प्रजनेश गुनेश्वरम को उनके लगातार अच्छे प्रदर्शन के लिए एक अच्छी खबर सुनने को मिली है। प्रजनेश गुनेश्वरम ने सोमवार को पहली बार पुरूष एकल की रैंकिंग के शीर्ष 100 में अपनी जगह बनाई है। 6 पायदानो की छलांग लगाकर वह पहली बार अपने करियर में 97वां स्थान हासिल कर रहे है।

प्रजनेश भारत के तीसरे ऐसे खिलाड़ी है जो शीर्ष 100 में जगह बना पाए है। इससे पहले भारत के सोमदेव देववरमन औऱ युकी भमबारी ही ऐसा कर पाए है।

किरकिरे बाएं हाथ के टेनिस खिलाड़ी का साल 2018 बहुत शानदार रहा था,  पिछले हफ्ते एटीपी चेन्नई चैलेंजर के सेमीफाइनल में पहुँच गया था ताकि प्रतिष्ठित ब्रैकेट में उसका प्रवेश सुनिश्चित हो सके।

अगर प्रजनेश अपनी शीर्ष-100 रैंकिंग को बरकरार रखते है, तो उनको ग्रैंड स्लेम सिंग्ल्स के मैन ड्रॉ में जगह मिलेगी।

हाल के समय में, युकी ने ही शीर्ष 100 स्थान बरकरार रखा है। बेहद प्रतिभाशाली युकी इंजरी के वजह से दुर्भाग्यपूर्ण रही है, जिससे उनकी सफलता में असर पड़ रहा है। हर बार जैसे ही वह शीर्ष-100 में प्रवेश मिलता है, उसके बाद वह एक लंबी-इंजरी के कारण खेल से बाहर हो जाते है।

वह इस समय 156वें स्थान पर है और रामकुमार रामानाथन से पीछे है, जिन्होने हाल ही में पांच पायदानो की छलांग लगाकर 128वां स्थान हासिल किया है। वही भारत की तरफ से नंबर चार पर साकेत मयनिनी (255+5), उनके पिछे एक और प्रतिभाशाली खिलाड़ी है शशि कुमार मुकुंद ने 22 पायदानो की छलांग लगाकर 271 स्थान प्राप्त किया है।

चेन्नई चैलेंजर में मुकुंद ने भी सेमीफाइल में प्रवेश किया था।

वही युगल खिलाड़ियो का बात करे तो रोहन बोप्पना (37) और उनके साथी दिविज शरन के साथ (39+1), लिएंडर पेस (75+7), जीवन (77+2), और पूर्वा राजा (100+3) स्थान पर है।

डब्ल्यूटीए चार्ट में, अंकिता रैना सीढ़ी पर तीन स्थानों पर चढ़ने के बाद 165 वें स्थान पर देश की शीर्ष एकल खिलाड़ी बनी हुई हैं और इसके बाद कर्मन कौर थांडी ने 211 पर बनी हुई है।

About the author

अंकुर पटवाल

अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!