Sat. Apr 13th, 2024
    मोबाइल वॉलेट

    डिजिटल ट्रैंज़ैक्शन को प्राथमिकता देने वाले लोगों के लिए खबर काफी खास हो सकती है। आरबीआई ने हाल ही में नियमावली को जारी करते हुए कहा है कि डिजिटल ट्रैंज़ैक्शन के तहत अब किसी भी कंपनी की डिजिटल वालेट से दूसरी कंपनी की डिजिटल वालेट में पैसे ट्रांसफर किए जा सकेंगे।

    आरबीआई ने अब इसके लिए नए मापदंडो को प्रस्तुत किया है जिसके तहत ग्राहकों को डिजिटल ट्रैंज़ैक्शन उपलब्ध करवाने वाली कंपनियां अब अपने यूजर को ये सुविधा दे सकेंगी कि उनके यूजर अपनी वालेट से किसी भी अन्य कंपनी की डिजिटल वालेट में पैसे का आदान-प्रदान कर सकेंगे।

    अभी तक डिजिटल तरीके से यह सुविधा कार्ड बैंकिंग तक ही सीमित थी, लेकिन आरबीआई के निर्देश के बाद अब ग्राहकों के लिए अपने मोबाइल से ही कहीं भी पैसा भेजना बेहद आसान हो जाएगा।

    यह सुविधा उन सभी डिजिटल वालेट पर उपलब्ध होगी जो यूपीआई का इस्तेमाल करते हैं। इसके तहत देश की मुख्य डिजिटल पेमेंट कंपनियां जैसे पेटीएम व ऑक्सिजन वालेट के यूजरों को फायदा होगा। मालूम हो कि पेटीएम जैसी कंपनी के पास करोड़ों की संख्या में सक्रिय उपभोक्ता है।

    आरबीआई ने अपने निर्देशों के साथ ही बताया है कि इसके चलते अब डिजिटल पेमेंट करने वाले ग्राहकों को और भी सहूलियत मिल सकेगी।

    देश की सबसे बड़ी डिजिटल पेमेंट कंपनी पेटीएम ने आरबीआई के इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा है कि “आरबीआई का यह कदम उन कंपनियों के लिए वरदान साबित होगा जो खास कर नॉन बैंकिंग सेक्टर से आती हैं। अब ऐसे में इस तरह की कंपनियां जो यूपीआई पर आधारित है अपना दायरा और भी अधिक बढ़ा सकेंगी। पेमेंट का यह तरीका भी कार्ड पेमेंट जितना ही प्रभावी साबित होगा।”

    पेटीएम के सीओओ किरन वसीरेड्डी ने कहा है कि “देश के पेमेंट तंत्र के मामले में यह एक बहुत बड़ा कदम है, आरबीआई के इस कदम के बाद अब देश में पीपीआई (प्रीपेड पेमेंट इन्स्ट्रुमेंट) तंत्र और भी ज्यादा मजबूत होगा।”

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *