Fri. Feb 3rd, 2023
    पुलवामा आतंकी हमला

    जम्मू-कश्मीर में हुए ताजा आतंकी हमलें ने देश में अशांति फैला दी है। तीन साल में पहली बार इतने बड़े आतंकीवादी हमले ने गुरूवार को घाटी को हिला दिया जब पुलवामा जिले के अवंतीपोरा डिस्ट्रिक्ट में में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर हमला किया गया। हमले में अबतक 37 जवानो की जान चली गई जबकि कई जवान अब भी घायल बताए जा रहे है।

    नवीनतम रिपोर्टों के अनुसार, हमला एक आत्मघाती हमलावर द्वारा किया गया था, जिसने विस्फोटक से भरी कार को सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी थी। काफिले में 70 से अधिक वाहन और 2,500 से अधिक कर्मी थे। हमला तीन साल में सबसे बड़ा हमला है। जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी समूह ने इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली है।

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस हमले की निंदा की गई, जिन्होंने कसम खाई थी कि ‘हमारे बहादुर सुरक्षाकर्मियों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा,’ और पूरा देश शहीदों के परिवारों के साथ एकजुटता के साथ खड़ा है। क्रिकेट बिुरादरी ने भी इस हमले की निंदा की और वीवीएस लक्ष्मण, शिखर धवन, सुरेश रैना और मोहम्मद कैफ ने भी ट्विटर से  शहीदों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना भेजी।

    लक्ष्मण ने ट्विट करते हुए लिखा, ” पुलवामा में हमारे बहादुर सीआरपीएफ के जवानों पर किए गए नृशंस हमले के बारे में सुनकर दुख और पीड़ा हुई। हमारे कई जवान शहीद हो गए हैं। मैं हमले में घायल हुए लोगों के शीघ्र और शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।”

    क्रिकेट बिरादरी ने पुलवामा हमले की निंदा की:

    रिपोर्ट्स के मुताबिक आत्मघाती हमलावर की कार में लगभग 350 किलोग्राम विस्फोटक पदार्थ था, जिसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मारी थी। इस हमले में बस को निशाना बनाया गया था लेकिन यह धमाका इतना खतरनाक था कि इससे कई और वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए। यह आतंकी हमला सितंबर 2016 में उरी आर्मी कैंप में हुए हमले से भी खतरनाक था, जिसके बाद भारतीय सेना ने पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था और कई आतंकी मार गिराए थे।

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *