पीसीबी के प्रबंध निदेशक वसीम खान ने कहा, हमने द्विपक्षीय श्रृंखला के लिए भारत से कई बार पूछा हैं

पाकिस्तान-भारत

भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट संबंधों को राजनीति से अलग कर दिया गया है और दो देशों ने काफी समय से द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेली है। विश्व क्रिकेट में सबसे बड़ी भीड़ खींचने वालों में से एक, भारत-पाकिस्तान द्विपक्षीय श्रृंखला लोकप्रियता और प्रतिद्वंद्विता की बात करते हुए दूसरे नंबर पर है। हालांकि, भारत ने पीसीबी के तटस्थ स्थानों की पेशकश के बावजूद 2012 से पाकिस्तान के खिलाफ श्रृंखला नहीं खेली है।

पीसीबी भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय श्रृंखला करवाने के लिए बहुत कोशिश कर रही है, लेकिन बीसीसीआई अभी भी इसमें दूरी बनाए हुए है क्योंकि दोनो देशो को बीच राजनीति मुद्दे सही नही चल रहे है। पीसीबी के नए प्रबंध निदेशक वसीम खान का मानना है पीसीबी के कई प्रयासो के बाद भी भविष्य में भी बहुत कम आशा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय श्रृंखला हो पाए।

वसीम ने रविवार को लाहौर में संवाददाताओं से कहा, ” मुझे लगता है भारत में चुनाव होने वाले है, तो भविष्य में कुछ होने की आशा नही है। लेकिन मैं और पीसीबी के अध्यक्ष एहसान मणि बहुत कोशिश कर रहे है कि ऐसा दोबारो हो सके और यह सब दूर किया जा सके लेकिन हमें अपने देश पर गर्व है।”

पीसीबी के मेनेजिंग डायरेक्टर ने उस बात पर जोर दिया जहा बीसीसीआई ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के प्रयास को नाकारा है, लेकिन इस बोझ के बाद भी पीसीबी बोर्ड कुछ ऐसी परिस्थिति बनाने की कोशिश कर रही है कि बीसीसीआई पीसीबी बोर्ड से सीरीज करवाने के लिए कहे। वसीम ने यह भी कहा कि पाकिस्तान अपने क्रिकेट के विकास को भी देख रहा है और अंतरराष्ट्रीय लेवल पर और सफलता प्राप्त कर सकता है अगर इंडिया उनके साथ सीरीज खेलने के लिए तैयार होती है।
वसीम ने कहा, ” “हम उन्हें खेलने के लिए कहते रहते हैं, लेकिन एक ऐसी स्थिति बनाते हैं जहां वे हमें खेलने के लिए कहते हैं।” मुझे लगता है कि हमें ऐसा करने की जरूरत है। यह दुखद है कि हम उनके खिलाफ नहीं खेल रहे हैं लेकिन जीवन जारी है और दुनिया आगे बढ़ रही है। हमें आगे बढ़ने और आगे बढ़ने की जरूरत है।”
हम भारत के खिलाफ सीरीज खेलने के लिए और इंतजार नही कर सकते है। हमारा पूरा फोकस पाकिस्तान की क्रिकेट में विकास करने का है और हम चाहते है कि हमारी टीम औऱ खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सफलता प्राप्त कर सके।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here