Mon. May 27th, 2024
    पीएम मोदी ने दिल्ली के मेजर ध्यानचंद राष्ट्रीय स्टेडियम में ‘आदि महोत्सव’ का किया उद्घाटन

    प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को दिल्ली के मेजर ध्यानचंद राष्ट्रीय स्टेडियम में राष्ट्रीय जनजातीय महोत्सव ‘आदि महोत्सव’ का उद्घाटन किया। आदि महोत्सव राष्ट्रीय मंच पर आदिवासी संस्कृति को प्रदर्शन करता है। यह आदिवासी संस्कृति, शिल्प, व्यंजन, वाणिज्य और पारंपरिक कला की भावना का जश्न मनाता है। यह जनजातीय मामलों के मंत्रालय के तहत Tribal Cooperative Marketing Development Federation Limited (TRIFED) की एक वार्षिक पहल है।

    पीएम ने कहा कि आदि महोत्सव, आज़ादी का अमृत महोत्सव के दौरान भारत की आदिवासी विरासत की एक भव्य तस्वीर पेश कर रहा है। उन्होंने कहा कि आदि महोत्सव कंधे से कंधा मिलाकर भारत की विविधता और भव्यता की तस्वीर पेश करता है। 

    उन्होंने कहा, “आदि महोत्सव एक अनंत आकाश की तरह है जहां भारत की विविधता को इंद्रधनुष के रंगों की तरह पेश किया जाता है।” इंद्रधनुष के रंगों के एक साथ आने की तुलना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की भव्यता तब सामने आती है जब उसकी अनंत विविधताओं को ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ की डोर में पिरोया जाता है और तभी भारत पूरे देश को मार्गदर्शन प्रदान करता है।

    प्रधानमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी का भारत ‘सबका साथ सबका विकास’ के मंत्र के साथ आगे बढ़ रहा है। जिसे रिमोट माना जाता था, अब प्रधानमंत्री ने कहा, सरकार वहां खुद जा रही है और रिमोट और उपेक्षित को मुख्यधारा में ला रही है।

    जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि आज दुनिया भारत के आदिवासियों को पहचानती है, यह सब हमारे प्रधानमंत्री के जनजातीय लोगों को बढ़ावा देने के ठोस प्रयासों के कारण है। उनके आदर्श वाक्य ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, सबका प्रयास’ ने हमें आदिवासी लोगों के समग्र विकास को पारदर्शी और आदर्श तरीके से सुनिश्चित करने का मार्ग दिखाया है। आदिवासियों की इस प्रगति का एक लंबा वसीयतनामा है हमारी अपनी राष्ट्रपति श्रीमती। द्रौपदी मुर्मू जो एक आदिवासी पृष्ठभूमि से ताल्लुक रखती हैं।

    अर्जुन मुंडा ने यह भी कहा कि आदि महोत्सव हमारे आदिवासी पूर्वजों, विभिन्न अद्वितीय आदिवासी समुदायों की संस्कृति, उनकी टिकाऊ जीवन शैली और स्वयं आदिवासियों के योगदान का जश्न मनाता है, जिन्होंने ग्लोबल वार्मिंग जैसी हमारी आधुनिक समस्याओं का स्वदेशी समाधान प्रदान किया है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *