सोमवार, अक्टूबर 14, 2019

पीएम नरेन्द्र मोदी ने कहा, ‘आर्टिफ़िश्यल इंटेलिजेंस’ ईजाद करेगा नए तरह की नौकरियाँ

Must Read

यूरो क्वालीफायर्स : जर्मनी, हंगरी ने दर्ज की जीत

बुडापेस्ट, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। जर्मनी की फुटबाल टीम ने एस्तोनिया को और हंगरी ने अजरबैजान को हराकर यहां जारी...

मुख्यमंत्री योगी की किसानों से अपील, खेतों में न जलाएं पराली

लखनऊ, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों से अपील की है कि वह फसल...

नेपाल से चीन के लिए रवाना हुए चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग नेपाल की दो दिवसीय यात्रा के बाद वापस मुल्क लौट रहे हैं। दो दिनों...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते गुरुवार को आर्टिफ़िश्यल इंटेलिजेंस की वजह से नौकरियाँ खत्म हो जाने के डर का खंडन करते हुए कहा कि आर्टिफ़िश्यल इंटेलिजेंस, ब्लॉकचैन और सभी तरह तकनीकी विश्व में नयी तरह की नौकरियों के पैदा होने का साधन बनेंगी।

वर्ल्ड इकनॉमिक फॉरम सेंटर के लॉंच पर इस मुद्दे पर आगे बोलते हुए उन्होने कहा कि इस तरह की किसी भी तकनीकी से नौकरियों के खत्म हो जाने जैसी चीजें सामने नहीं आएंगी, बल्कि आने वाले समय में यही तकनीकी नयी तरह की नौकरियों को जन्म देंगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि “देश इस समय ‘वर्क फॉर इंडिया, वर्क फॉर वर्ल्ड’ के नारे पर चल रहा है। अभी भी कई लोग मानते हैं कि नयी तकनीकी के आ जाने के साथ ही किसी कार्य को पूरा करने के लिए ह्यूमन रिसोर्स की जरूरत ही खत्म हो जाएगी, जबकि हकीकत कुछ और ही है।

साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि उनकी सरकार ने स्टार्टअप इंडिया, स्टैंडअप इंडिया, डिजिटल इंडिया और अटल इनोवेशन मिशन जैसी कई योजनाओं की सफल शुरुआत की है, जिसके तहत तकनीक और मेहनत के इस्तेमाल से नौकरियों का बड़ी संख्या में उत्पादन किया जा सकता है।

मोदी ने बताया कि भारत इस बार चौथी औद्योगिक क्रांति में सबसे बड़ा हिस्सेदार बनेगा। देश में विविधता, कौशल क्षमता व डिजिटल बुनियादी ढांचा जैसी मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता के चलते भारत विश्व पटल पर रिसर्च और इनोवेशन का नेतृत्व करेगा।

चौथी औद्योगिक क्रांति पर बात करते मोदी ने कहा कि जब पहली और दूसरी औद्योगिक क्रांति हुई तब भारत आजाद भी नहीं था, तीसरी औद्योगिक क्रांति के समय भारत आजादी बाद उत्पन्न हुई गरीबी समेत अनेकों समस्याओं से जूझ रहा था, लेकिन अब चौथी औद्योगिक क्रांति में भाग लेने के लिए देश  पूरी तरह से समर्थ है।

मोदी के अनुसार एआई, ब्लॉकचेन व इंटरनेट जैसी तकनीक आने वाले निकट भविष्य में देश को तकनीक व नौकरी ईजाद के मामले में और ऊपर लेकर जाएंगी। मोदी के अनुसार हर मामले में तेज़ी से आगे बढ़ता देश अब विश्व के लिए आकर्षण का केंद्र बन चुका है।

वर्ल्ड इकनॉमिक फॉरम का चौथा सेंटर भारत में खोला गया है। इसे मुंबई में स्थापित किया गया है। इसी के साथ मुंबई अब सैन फ्रांसिस्को, टोक्यो और बीजिंग के बाद वर्ल्ड इकनॉमिक फॉरम का सेंटर खोलने वाला चौथा शहर बन गया है।

मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा है कि भारत इस समय तकनीकी का भी सबसे बड़ा बाज़ार बन गया है, मोदी के अनुसार भारत में वर्तमान में करीब 50 करोड़ सक्रिय मोबाइल उपभोक्ता है। इसी के साथ भारत पिछले 4 सालों में विश्व में सबसे ज्यादा मोबाइल डाटा खपत वाला देश भी बन गया है। भारत इस समय विश्व भर की तुलना में सबसे सस्ता मोबाइल डाटा उपलब्ध करवा रहा है।

भारत के विकास पर बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि भारत में 120 करोड़ लोगों के पास आधार कार्ड है, इसी के साथ देश में करीब 2.5 लाख ग्राम पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ने का लक्ष्य पूरा किया जा रहा है। देश का डिजिटलीकरण अपने चरम पर है।

इसी के साथ मोदी ने कहा कि कृषि के क्षेत्र में अधिकाधिक तकनीकी या विशेष कर आर्टिफ़िश्यल इंटेलिजेंस का उपयोग करने से संभव है कि किसानों कि आय में 110 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की जा सके।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

यूरो क्वालीफायर्स : जर्मनी, हंगरी ने दर्ज की जीत

बुडापेस्ट, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। जर्मनी की फुटबाल टीम ने एस्तोनिया को और हंगरी ने अजरबैजान को हराकर यहां जारी...

मुख्यमंत्री योगी की किसानों से अपील, खेतों में न जलाएं पराली

लखनऊ, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों से अपील की है कि वह फसल काटने के बाद उसके अपशिष्ट...

नेपाल से चीन के लिए रवाना हुए चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग नेपाल की दो दिवसीय यात्रा के बाद वापस मुल्क लौट रहे हैं। दो दिनों की इस यात्रा के दौरान...

पाकिस्तान को हाफिज सईद सहित एलईटी के आला आतंकवादियों पर मुकदमा चलाना होगा: अमेरिका

पाकिस्तान को अपनी सरजमीं से आतंकवादियों के संचालन पर लगाम लगानी पड़ेगी और हाफिज सईद सहित लश्कर के आला नेताओं पर मुकदमा चलाना होगा।...

पाकिस्तान उच्चायोग हवाला से कश्मीर में आतंकवाद को कर रहा आर्थिक मदद : एनआईए (लीड-1)

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (आईएएनएस) राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार को कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद को पाकिस्तानी उच्चायोग द्वारा सीधे...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -