Mon. Apr 22nd, 2024
    जब पारुल चौहान को पुष्कर में देख लोगो ने 'रागिनी रागिनी' चिल्लाना शुरू किया

    लगता है राजस्थान टीवी सितारों का पसंदीदा स्थान बन गया है। टीवी की मशहूर जोड़ी मालिनी कपूर-अजय शर्मा और धीरज धूपर-विन्नी अरोड़ा के बाद, अब ‘यह रिश्ता क्या कहलाता है’ फेम पारुल चौहान भी अपने पति चिराग ठक्कर के साथ रेगिस्तानी राज्य में पहुँच गयी हैं। उन्होंने जयपुर का दौरा किया था।

    ये भी पढ़े: धीरज धूपर ने जोधपुर में मनाया अपनी पत्नी विन्नी अरोड़ा का जन्मदिन, देखिए तसवीरें

    पारुल ने टाइम्स ऑफ़ इंडिया को बताया-“जयपुर मेरे लिए कोई नई जगह नहीं है क्योंकि यहाँ मेरे बहुत सारे दोस्त हैं। लेकिन इस बार, मैंने अजमेर शरीफ दरगाह और पुष्कर का भी दौरा किया। और इन स्थानों की पहली यात्राएँ बहुत खास निकलीं। और मुझे अपने प्रशंसकों से जो प्यार और स्नेह मिला, वह अद्भुत था। जिस क्षण मैं पुष्कर मंदिर से बाहर आई, तो मैंने अपने रील और रियल नाम – रागिनी (बिदाई में उनका किरदार) और पारुल दोनों को चिल्लाते हुए एक बड़ी भीड़ को देखा। मुंबई जैसे शहर में, लोग सड़कों पर अभिनेताओं को दूसरी बार नहीं पलट कर नहीं देखते। लेकिन यहां, मैं अपने प्रशंसकों को देखकर अभिभूत हो गयी। मेरे दोस्त और चचेरे भाई भी मेरे साथ थे और उन्हें मेरे लिए बाउंसर बनना पड़ा। वे चिंतित थे कि इतनी भीड़ एकदम से कैसे आ गई। लेकिन मुझे यह सब पसंद आ रहा था।”

    Image result for PARUL CHAUHAN

    ‘यह रिश्ता क्या कहलाता है’ में स्वरा का किरदार निभाने वाली पारुल ने फरवरी में शो छोड़ दिया क्योंकि वह दादी की भूमिका निभाने में सहज नहीं थीं। पारुल मानती हैं, “मैं अपने करियर में इतनी जल्दी दादी का किरदार निभाने के लिए सहज नहीं थी। और मुझे कोई पछतावा नहीं है। मैंने लोगों से (टीवी उद्योग से) मिलना शुरू कर दिया है और कुछ महीनों में काम फिर से शुरू कर दूंगी।”
    पारुल ने पिछले साल दिसंबर में शादी की और वैवाहिक जीवन का आनंद ले रही हैं। पारुल कहती हैं, “पिछले साल मेरी शादी हुई और अच्छे के लिए बहुत कुछ बदल गया। अब मेरा परिवार मेरी पहली प्राथमिकता है और मैं धीरे-धीरे इस नए जीवन को अपना लेना सीख रही हूँ।”
    Related image

     

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *