पाकिस्तान में हिन्दुओं की अस्थियां गंगा में विसर्जन को मुंतजिर

Must Read

कबीर सिंह के लिए पुरुष्कार ना मिलने पर शाहिद कपूर ने दिया यह जवाब

कल मंगलवार शाम को शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) ने ट्विटर पर अपने प्रशंसकों से बात करने की योजना बनायी...

सिक्किम के बाद लद्दाख में भारत और चीन की सेना में टकराव

सिक्किम में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबरों के बाद उत्तरी सीमा पर दोनों देशों के...

औरंगाबाद में रेल के नीचे आने से 16 मजदूरों की मौत, 45 किमी की दूरी तय करने के बाद हुई घटना

महाराष्ट्र (Maharashtra) के औरंगाबाद (Aurangabad) शहर में शुक्रवार सुबह कम से कम 16 प्रवासी श्रमिक ट्रेन के नीचे कुचले...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

पाकिस्तान में सैकड़ों हिन्दुओं की अस्थियां गंगा में विसर्जित होने के लिए मुंतजिर है। अनुमानित 40 लाख से अधिक हिन्दू मुस्लिम बहुल पाकिस्तान में रहते हैं जिनके पूर्वज विभाजन के दौरान भारत में ही रह गए थे। पाकिस्तान में हिन्दू कारोबारी अतम प्रकाश की इस साल कैंसर से मौत हो गयी थी। उनकी आखिरी इच्छा थी कि उनकी अस्थियो को हरिद्वार की गंगा नदी में विसर्जित की जाए।

उनके भाई सनी घनशाम ने कहा कि “मेरे भाई ने कहा था कि उनकी अस्थियो को गंगा में विसर्जित किया जाए लेकिन मैं नहीं जानता कि हम कभी उनकी इच्छा को पूरा भी कर पायेंगे या नहीं।” भारतीय और पाकिस्तानियों के लिए वीजा मिलना बेहद मुश्किल कार्य है।

संदिग्ध गतिविधियों के कारण दोनों पक्षों के लिए वीजा नियमो को बेहद सख्त कर दिया है। साल 2012 में दोनों देशो के बीच एक वीजा समझौता हुआ था जिसने इसे काफी सरल बना दिया था। दोनों देशो के बीच अविश्वास और शत्रुता काफी बढ़ गयी है।

पाकिस्तान ने राजनयिक संबंधो को आंशिक रूप से खत्म कर दिया था। भारत के साथ सभी परिवहन लिंक्स को रोका था, द्विपक्षीय व्यापार पर पाबन्दी लगा दी थी। नई दिल्ली ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी कर दिया था। द्विपक्षीय विवाद को हल करने से स्थिति ज्यादा खतरनाक हो सकता है।

भारत और पाकिस्तान के बीच संबंध बेहद तनावपूर्ण हो रहे हैं। पाकिस्तान से सीमा पार आतंकवाद के खतरे के प्रति चिंता व्यक्त की थी। भारत ने पाकिस्तान पर कश्मीर में अस्थिरता को फैलाने के लिए आतंकवादियों को भेजने का आरोप लगाया था। सितम्बर 2016 में कराची के शमशान घाट के केयरटेकर रामनाथ ने 160 अस्थियो को भारत पंहुचाया था और बीते तीन वर्षों के कार्यकाल में शेष अभी नदी में विसर्जित होने के लिए मुंतजिर है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

कबीर सिंह के लिए पुरुष्कार ना मिलने पर शाहिद कपूर ने दिया यह जवाब

कल मंगलवार शाम को शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) ने ट्विटर पर अपने प्रशंसकों से बात करने की योजना बनायी...

सिक्किम के बाद लद्दाख में भारत और चीन की सेना में टकराव

सिक्किम में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबरों के बाद उत्तरी सीमा पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच टकराव की...

औरंगाबाद में रेल के नीचे आने से 16 मजदूरों की मौत, 45 किमी की दूरी तय करने के बाद हुई घटना

महाराष्ट्र (Maharashtra) के औरंगाबाद (Aurangabad) शहर में शुक्रवार सुबह कम से कम 16 प्रवासी श्रमिक ट्रेन के नीचे कुचले गए, जब वे मध्य प्रदेश...

भारत में कोरोनावायरस के आंकड़े 50,000 के पार, महाराष्ट्र में सबसे भयानक स्थिति

भारत (India) में कोरोनावायरस (Coronavirus) से संक्रमित लोगों की संख्या में पिछले दो दिनों में 14 फीसदी की वृद्धि देखि गयी है। यह आंकड़ा...

कोरोनावायरस अपडेट: देश में 24 घंटों में सबसे तेजी से वृद्धि, कुल आंकड़ा 46,000 के पार

भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामलों में पिछले 24 घंटों में सबसे तेजी वृद्धि देखने को मिली है। पिछले 1 दिन में कुल आंकड़ों...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -