बुधवार, जनवरी 22, 2020

पाकिस्तान: सिंध के शिव मंदिर का दौरा करेंगे इमरान खान

Must Read

मायावती ने स्वीकर की गृहमंत्री शाह की चुनौती, कहा बसपा कहीं भी सीएए पर बहस को तैयार

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) व एनआरसी को लेकर गृहमंत्री अमित...

टोक्यो ओलंपिक : पाल सिंह संधू को महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू से पदक की उम्मीद

भारोत्तोलन में भारत के पहले द्रोणाचार्य अवार्डी विजेता पाल सिंह संधू को उम्मीद है कि अनुभवी महिला वेटलिफ्टर साइखोम...

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च का अनुमान, वित्त वर्ष 2021 में जीडीपी वृद्धि दर 5.5 फीसदी

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने बुधवार को कहा कि उसे उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2021 में सकल घरेलू...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

पाकिस्तान के प्रध्जन्मन्त्री इमरान खान सिंह के थारपारकर जिले के श्गिव मंदिर का दौरा करेंगे। इस यात्रा के दौरान इमरान खान स्थानीय हिन्दू समुदाय को संबोधित करेंगे। यह यात्रा ऐसे समय पर सामने आई हिया जब पाकिस्तानी सरकार ले खिलाफ हिन्दू और सिख समुदाय मानव अधिकार के मामले पर प्रदर्शन कर रहे हैं।

पाकिस्तान के निर्माण के बाद मुल्क में हिन्दुओ और सिखों को तादाद काफी रही थी लेकिन बीते वक्त के साथ दोनों ही समुदाय अब अल्पसंख्यको की श्रेणी में आते हैं। धार्मिक आधार पर अल्पसंख्यक समुदाय के इन आंदोलनों के कारण ही बीते दिनों इमरान खान की अमेरिका यात्रा के दौरान लगभग दस अमेरिकी सांसदों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को पत्र लिख मानवाधिकार उल्लंघन का मुद्दा उठाने को कहा था।

इस पत्र में डोनाल्ड ट्रंप को आगाह किया था कि पाकिस्तान के सिंध प्रांत में पाक सेना न सिर्फ अल्पसंख्यकों का दमन कर रही है, बल्कि विरोध करने वालों को गैरकानूनी तरीके से गिरफ्तार किया जा रहा है। इसके अलावा पत्र में हिन्दू और ईसाई लड़कियों के जबरन धर्म परिवर्तन का मसला भी उठाया गया था।

पाक में अल्पसंख्यको की हालत में सुधार के लिए राज्य की तरफ से अधिक होना चाहिए, हिन्दू मंदिरों के पुनर्निर्माण के साथ ही अन्य कार्य करने की भी जरुरत है।

इमरान खान ने कहा था कि यदि वह अल्पसंख्यको पर दमन पर लगाम लगाने में असफल रहेंगे तो प्रधानमंत्री के पद से त्यागपत्र देने में नहीं हिचकेंगे। अब उनके पीएम बनने के बाद भी पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की स्थिति में कोई बदलाव नहीं आया है।

विश्लेषको के मुताबिक, भारत में भाजपा और आरएसएस पर अल्पसंख्यक मुस्लिमों कथित दमन पर निशाना साधने के लिए इमरान खान हिंदुओं को न सिर्फ संबोधित करेंगे, बल्कि शिव मंदिर भी जाएंगे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

मायावती ने स्वीकर की गृहमंत्री शाह की चुनौती, कहा बसपा कहीं भी सीएए पर बहस को तैयार

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) व एनआरसी को लेकर गृहमंत्री अमित...

टोक्यो ओलंपिक : पाल सिंह संधू को महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू से पदक की उम्मीद

भारोत्तोलन में भारत के पहले द्रोणाचार्य अवार्डी विजेता पाल सिंह संधू को उम्मीद है कि अनुभवी महिला वेटलिफ्टर साइखोम मीराबाई चानू आगामी टोक्यो ओलंपिक...

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च का अनुमान, वित्त वर्ष 2021 में जीडीपी वृद्धि दर 5.5 फीसदी

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने बुधवार को कहा कि उसे उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2021 में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर...

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 : आचार संहिता उल्लंघन की 228 एफआईआर दर्ज, आप के खिलाफ फिर 13 मामले

दिल्ली में 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से कराने में जुटे राज्य चुनाव मुख्यालय ने एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया है। चुनाव...

जम्मू-कश्मीर : संभावित आतंकी हमलों के मद्देनजर गणतंत्र दिवस से पहले हाईअलर्ट

जम्मू-कश्मीर में गणतंत्र दिवस से पहले संभावित आतंकी हमलों की खुफिया सूचना के बाद से हाईअलर्ट घोषित कर दिया गया है। सूत्रों ने कहा कि...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -