Wed. Feb 1st, 2023
    इमरान खान

    अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने सामाजिक और विकास खर्च के लिए पाकिस्तान से घरेलू कर राजस्व को गतिशील बनाने का आग्रह किया है और कर्ज के ग्राफ को नीचे की तरफ गिराने का आग्रह किया है। यह बयान आईएमएफ के कार्यकारी निदेशक डेविड लिप्टन ने दिया है।

    आईएमएफ का सुझाव

    पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री तीन दिवसीय अमेरिकी यात्रा पर है और इस दौरान उन्होंने आईएमएफ के कार्यकारी महासचिव से भी मुलाकात की थी। खान सोमवार को व्हाइट हाउस में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ मुलाकात करेंगे और द्विपक्षीय संबंधों को बेहतर बनाने की कोशिश करेंगे।

    लिप्टन ने कहा कि “मैंने घरेलू कर राजस्व को गतिशील करने की जरुरत को रेखांकित किया है और भविष्य में सामाजिक और विकास के खर्च में मदद मुहैया करेगी। जबकि ऋण को नीचे की तरफ धकेलने के लिए दृढ रहना चाहिए। हमने हालिया आर्थिक विकासो पर चर्चा की थी और विभाग के आर्थिक सुधार कार्यक्रम को अमल में लाने पर चर्चा की थी, जिसे आईएमएफ सहयोग कर रहा है।”

    उन्होंने कहा कि “इस कार्यक्रम का मकसद अर्थव्यवस्था को स्थिर करना है, संस्थानों को मज़बूत करना और पाकिस्तान को सतत और संतुलित वृद्धि के मार्ग की तरफ अग्रसर करना है।” अंतरराष्ट्रीय साझेदारो के साथ आईएमएफ पाकिस्तान की सरकार से साथ काफी करीबी से कार्य कर रहा है ताकि इस सुधार कार्यक्रम को अमल में लाया जा सके।

    हाल ही में आईएमएफ ने पाकिस्तान के लिए छह अरब डॉलर के बेलआउट पैकेज को मंज़ूरी दी थी। पाकिस्तान आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रहा है और इसके लिए इमरान खान ने कई मित्र देशों से मदद ली है। इसमें सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और चीन शामिल है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *