Sat. Nov 26th, 2022
    पाकिस्तानी पीएम

    ईरान की यात्रा के बाद पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री इमरान खान आज रियाद की यात्रा पर जायेंगे और खाड़ी क्षेत्र पर सऊदी नेतृत्व के साथ हालिया वारदातों पर चर्चा करेंगे। खान ने रविवार को ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी के साथ मध्य पूर्व की हालिया वारदातों के बारे में प्रेजिडेटल पैलेस में मुलाकात कर चर्चा की थी।

    खान ने रूहानी के साथ जॉइंट प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि “पाकिस्तान तेहरान और रियाद संघर्ष नहीं चाहता है। तेहरान और रियाद के बीच वार्ता के आयोजन से मैं खुश हूँ। मैं बेहद आशावादी हूँ कि मैंने राष्ट्रपति रूहानी के साथ रचनात्मक वार्ता की थी।”

    इस यात्रा के दौरान खान ने ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई से भी मुलाकात की थी। पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री के साथ विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी भी ईरानी यात्रा पर थे। साथ ही पीएम के विशेष सहायक सैयद ज़ुल्फ़िकार अब्बास बुखारी भी थे।

    स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के साथ हालिया क्षेत्रीय घटनाओं पर चर्चा की थी। सऊदी अरब की राज्य कम्पनी अरामको की दो तेल कंपनियों पर ड्रोन से हमले से किये थे। इसके बाद से ही तेहरान और रियाद के बीच तनाव काफी बढ़ गया था।

    सीरियन कुर्दिश वाईपीजी चरमपंथियों को अंकारा चरमपंथी समूह मानता है। अमेरिका ने अंकारा की कार्रवाई को रोकने के लिए प्रयासों में वृद्धि कर दी है। उन्होंने कहा कि “अंकारा संबंधो को बहुत नुकसान पंहुचा रहा है और उसे आर्थिक प्रतिबन्ध झेलने पड़ सकते हैं।”

    पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री इमरान खान शनिवार को मध्य पूर्व के दौरे पर गए थे। इस यात्रा के दौरान वह सऊदी अरब और ईरान के बीच मध्यस्थता करने की कोशिश करेंगे। पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री का यह दौरा सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के आदेश पर हो रही है इमरान खान से ईरान के साथ तनाव को कम करने के बाबत पूछा जायेगा क्योंकि सऊदी अरब जंग नहीं लड़ना चाहता है।

     

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *