रविवार, अप्रैल 5, 2020

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने खालिस्तानी अलगावादी से करतारपुर वार्ता में की मुलाकात

Must Read

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए।...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

भारत और पाकिस्तान की करतारपुर गलियारे पर पहली बैठक से पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने खालिस्तानी समर्थक गोपाल सिंह चावला से मुलाकात की थी। खालिस्तानी समर्थक चावला भारत के खिलाफ जहर उगलता है और देश को विभाजित करने की बात कहता है।

पाकिस्तान की सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी का गोपाल सिंह चावला जनरल सेक्रेटरी है। खालिस्तानी समर्थक ने कांग्रेस के सांसद नवजोत सिंह सिद्धू के साथ भी मुलाकात की थी। भारत और पाकिस्तान परियोजना पर सहमति के तीन माह बाद पहली मुलाकात कर रहे हैं ताकि प्रस्ताव को अंतिमरूप दिया जा सके।

ख़बरों के मुताबकि बीते वर्ष भारतीय सिख श्रद्धालुओं को पाकिस्तान के गुरुद्वारे में खालिस्तानी समर्थक बैनर दिखाए गए थे और इसके साथ ही सिख श्रद्धालुओं को मिलने गए भारतीय राजदूतों को जबरन सच्चा सौदा गुरुद्वारा छोड़ने के लिए विवश कर दिया गया था। वह चावला ही था जिसने राजनयिकों को गुरूद्वारे से बाहर निकाला था।

सूत्रों के मुताबिक “इस बैठक में विदेश मंत्रालय, गृह मंत्रालय, पंजाब सरकार, नेशनल हाईवे अथॉरिटी, रोड ट्रांसपोर्ट एंड बॉर्डर सिक्योरिटी इस बैठक में शरीक होंगे। भारतीय दल का नेतृत्व गृह मंत्रालय के जॉइंट सेक्रेटरी अनिल मलिक, अफगानिस्तान, ईरान और पीओके में भारत के जॉइंट सेक्रेटरी दीपक मित्तल करेंगे।”

भारत ने 24 नवंबर को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने लाहौर से 124 किलोमीटर दूर नरोवाल में इस गलियारे की नींव रखी थी। करतारपुर पाकिस्तान के पंजाब प्रान्त में आता है और नरोवाल जिले में पड़ता है। भारत सरकार ने इस निर्णय को 22 नवम्बर 2018 को लिया था, क्योंकि यह प्रस्ताव लम्बे समय से अटका हुआ था। भारत सरकार ने आज पाकिस्तान के साथ अंतर्राष्ट्रीय सीमा के साथ ही करतारपुर गलियारे का आंकड़े साझा किये हैं।

इस गलियारे के माध्यम से भारत के सिख श्रद्धालु पाकिस्तान में स्थित पवित्र स्थल के दर्शन कर पाएंगे। नवंबर, 2019 में गुरु नानक देव जी की 550 वीं वर्षगाँठ का आयोजन होगा।

खालिस्तान से पाकिस्तान का कनेक्शन

khalistan

जाहिर है जब से बांग्लादेश पाकिस्तान से अलग हुआ है तब से पाकिस्तान की सेना भारत से बदला लेने की कोशिश कर रही है। पाकिस्तानी सेना और आईएसआई की कोशिश है कि वे जम्मू कश्मीर और पंजाब के जरिये भारत को तोड़ने की कोशिश करें।

1980 के दशक में जब खालिस्तान विवाद अपने चरम पर था उस समय पाकिस्तान अपने देश में कुछ खालिस्तानियों को प्रशिक्षण दे रहा था और उन्हें भारत के पंजाब में आतंकवाद फैलाने के लिए भेजता था।

1984 के बाद भारत नें इसपर काबू पा लिया था लेकिन अब भी कनाडा जैसे देशों से लोग खालिस्तान का समर्थक कर रहे हैं।

हाल के समय में पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह नें कहा था कि उन्हें लगता है कि करतारपुर कॉरिडोर पाकिस्तान की सेना और आईएसआई की साजिश है और वे इसके जरिये पंजाब में खालिस्तान विवाद को वापस लाना चाहते हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

एक विलेन 2: दिशा पटानी के बाद, तारा सुतारिया फिल्म से जुड़ी, जॉन अब्राहम और आदित्य रॉय कपूर भी होंगे फिल्म का हिस्सा

यह पहले बताया गया था कि जॉन अब्राहम 2014 की फिल्म, एक विलेन की अगली कड़ी बनाने के लिए बातचीत कर रहे थे। जनवरी...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए। 2 दिन में 16.03 करोड़...

महाराष्ट्र सरकार को कोई खतरा नहीं – कांग्रेस

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बुधवार शाम को अपने सभी विधायकों की बैठक बुलाई है। राकांपा नेताओं ने कहा कि 26 मार्च को होने...

पीएम मोदी, राहुल गांधी ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके 78 वें जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं। पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा,...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -