मंगलवार, अप्रैल 7, 2020

पाकिस्तानी समर्थित आतंकी समूह भारत, अफगानिस्तान में हमले जारी रखेंगे: अमेरिकी स्पाईमास्टर

Must Read

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए।...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

अमेरिकी स्पाईमास्टर ने कहा कि पाकिस्तान समर्थित आतंकी समूह भारत और अफगानिस्तान में आतंकी हमले करना जारी रखेंगे। नेशनल इंटेलिजेंस के निदेशक डेन कोअट्स ने कहा कि “पाकिस्तान का आतंकवाद को खत्म करने का हीलहवाली रवैया या कुछ समूहों को अपनी नीति के तहत इस्तेमाल करना और सिर्फ उन्ही चरमपंथी समहों का खात्मा करना जिनसे पाकिस्तान को खतरा हो, इस रवैये ने तालिबान के खिलाफ अमेरिकी आतंक रोधी नीति के प्रयासों को झकझोर का रख दिया है।”

उन्हने कहा कि “पाकिस्तान के समर्थन से फल फूल रहे चरमपंथी समूह मुल्क में अपने सुरक्षित संरक्षण का फायदा उठाना जारी रखेगा और भारत व अफगानिस्तान के खिलाफ आतंकी हमले जारी रखेगा, साथ ही अमेरिका के हितों के खिलाफ होगा।” अमेरिकी निदेशक ने यह बात ख़ुफ़िया निगरानी पर बनी सीनेट समिति के सदस्यों के समक्ष कही थी।

निदेशक व अमेरिकी ख़ुफ़िया विभाग के वरिष्ठ अधिकारी देशव्यापी स्तर पर खतरे के बाबत चर्चा के लिए एकत्रित हुए थे। इसमें सीआईए की निदेशक गिना हास्पेल भी थी, जो हाल ही में भारत यात्रा से वापस गए थे, इसके आलावा एफबीआई के डायरेक्टर क्रिस्टोफर वरे और डिफेन्स इंटेलिजेंस एजेंसी के डायरेक्टर रोबर्ट आश्ले भी थे।

डेन कोअट्स ने कहा कि साल 2019 में दक्षिण एशिया के देशों की चुनौतियों में इजाफा होगा क्योंकि अफगानिस्तान में मध्य जुलाई के करीब राष्ट्रपति के चुनाव है और तालिबान निरंतर आतंकी हमले कर रही है, पाकिस्तान आतंकी समूहों के साथ समझौता कर रहा है और भारत में आम चुनावों के दौरान सांप्रदायिक हिंसा भड़कने का खतरा है।

उन्होंने कहा कि “न तालिबान और न ही अफगान सरकार को अफगानी युद्ध में सैन्य एडवांटेज मिलेगा। अफगानी सेना शहरों और सरकारी महकमों की सुरक्षा कड़ी रखती है लेकिन तालिबान आतंकी हमलों की संख्या को निरंतर बाधा रहा है और अफगानी सेना को विशाल सेना की कमी खल रही है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

एक विलेन 2: दिशा पटानी के बाद, तारा सुतारिया फिल्म से जुड़ी, जॉन अब्राहम और आदित्य रॉय कपूर भी होंगे फिल्म का हिस्सा

यह पहले बताया गया था कि जॉन अब्राहम 2014 की फिल्म, एक विलेन की अगली कड़ी बनाने के लिए बातचीत कर रहे थे। जनवरी...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए। 2 दिन में 16.03 करोड़...

महाराष्ट्र सरकार को कोई खतरा नहीं – कांग्रेस

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बुधवार शाम को अपने सभी विधायकों की बैठक बुलाई है। राकांपा नेताओं ने कहा कि 26 मार्च को होने...

पीएम मोदी, राहुल गांधी ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके 78 वें जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं। पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा,...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -