दा इंडियन वायर » राजनीति » पांडिचेरी दौरे पर पहुंचे गृहमंत्री अमित शाह
राजनीति समाचार

पांडिचेरी दौरे पर पहुंचे गृहमंत्री अमित शाह

कुछ समय बाद पांडिचेरी में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। पांडिचेरी में वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियां काफी खराब हैं। ऐसे में गृह मंत्री अमित शाह ने पांडिचेरी के पूर्व सीएम नारायणसामी पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। यहां कुछ समय पहले तक कांग्रेस की सरकार थी, लेकिन 22 फरवरी को सीएम नारायणसामी ने इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद गृह मंत्री अमित शाह ने आज पांडिचेरी के कराईकाल में एक जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने सभा में लोगों को बीजेपी के पक्ष में करने और प्रदेश में बीजेपी की साख मजबूत करने का काम किया।

साथ ही उन्होंने पूर्व सीएम पर भ्रष्टाचार के आरोप भी लगाए। अमित शाह ने जनता को विश्वास दिलाते हुए कहा कि उनका अनुभव कहता है कि पांडिचेरी में जल्द ही बीजेपी की सरकार बनने वाली है। उन्होंने कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र की तरफ से 15,000 करोड़ रुपए प्रदेश के विकास के लिए भेजे गए थे। लेकिन जिन लोगों को पैसा मिलना चाहिए था उन तक नहीं पहुंचा।

प्रदेश में काफी समय से निकाय चुनाव नहीं हुए हैं। इस बात को भी अमित शाह ने आढ़े हाथों लेते हुए कहा कि निकाय चुनाव लोकतंत्र में सबसे महत्वपूर्ण कड़ी होते हैं। लेकिन पिछले 14 वर्षों से प्रदेश में निकाय चुनाव नहीं हुए हैं। हाईकोर्ट के कहने पर भी कांग्रेस ने निकाय चुनाव नहीं करवाए क्योंकि उन्हें डर था कि निकाय चुनाव में बीजेपी जीत कर उनके भ्रष्टाचार को खत्म कर सकती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में योग्यता के लिए कोई जगह नहीं है। इसीलिए कई नेता कांग्रेस से अलग होकर भाजपा का दामन थाम रहे हैं।

गृह मंत्री अमित शाह पांडिचेरी में भी बीजेपी के लिए माहौल बनाने का पूरा प्रयास कर चुके हैं। वहां एक ही चरण में विधानसभा चुनाव होना है और इसके लिए भाजपा ने लगभग कमर कस ली है। कुछ समय पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पांडिचेरी का दौरा किया था। और अब अमित शाह ने जनसभा करके प्रदेश में सियासी समीकरण को अपने वश में करने का काम किया है।

उन्होंने राहुल गांधी पर भी जमकर निशाने साधे। साथ ही कांग्रेस को भी खूब घेरा। उन्होंने केंद्र सरकार के द्वारा प्रदेश के लिए किए गए विकास कार्यों का भी उल्लेख किया। वहीं उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र ने अपनी तरफ से बहुत सी योजनाएं प्रदेश को देने का काम किया था, लेकिन प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने उन्हें आम लोगों तक पहुंचने नहीं दिया। उन्होंने बेरोजगारी के मुद्दे को भी उठाया। उन्होंने कहा कि यदि प्रदेश में भाजपा की सरकार आती है तो बेरोजगारी की दर को 40 फीसदी से कम कर दिया जाएगा।

उन्होंने केंद्र सरकार के द्वारा पर्यटन को बढ़ावा देने के तहत शुरू की जाने वाली योजनाओं का भी जिक्र किया। साथ ही मत्स्य पालन से जुड़े लोगों और कृषि करने वाले लोगों के लिए भी कुछ योजनाओं के बारे में बताया। 6 अप्रैल को पांडिचेरी में चुनाव होना है, और इसके नतीजे 2 मई तक घोषित होंगे। बीजेपी इस मौके को गंवाना नहीं चाहती। बंगाल के बाद बीजेपी का अगला लक्ष्य पांडिचेरी फतह करना हो सकता है।




फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!