दा इंडियन वायर » अर्थशास्त्र » पहली छमाही में वार्षिक लक्ष्य का 38.6% जमा हुआ है प्रत्यक्ष कर, राजकोषीय घाटे में आई कमी
अर्थशास्त्र व्यापार

पहली छमाही में वार्षिक लक्ष्य का 38.6% जमा हुआ है प्रत्यक्ष कर, राजकोषीय घाटे में आई कमी

भारत की अर्थव्यवस्था indian economy in hindi

वित्तीय वर्ष 2018-2019 के लिए सरकार द्वारा निर्धारित प्रत्यक्ष कर के कुल कलेक्शन का पहली छमाही तक 38.6 फ़ीसदी कर वसूल कर लिया गया है। सरकार ने इस साल प्रत्यक्ष कर के लिए 115 खरब रुपये का लक्ष्य रखा है।

इस वित्तीय वर्ष की पहली छमाही तक कुल 44.4 खरब रुपये का प्रत्यक्ष कर वसूल किया गया है।

ये आंकड़ें पिछले वित्तीय वर्ष की पहली छमाही के मुक़ाबले जमा हुआ कर से 14 प्रतिशत ज्यादा है। फिलहाल इस तिमाही जीएसटी से काफी उम्मीदें है। माना जा रहा है कि त्योहारों के सीज़न पर अधिक से अधिक जीएसटी सरकार को मिल सकेगा।

पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष पहली छमाही में सकल प्रत्यक्ष कर 16.7 फीसदी अधिक रहा। जिसके चलते देश को 54.7 खरब रुपये का कर प्राप्त हुआ।

दूसरी ओर सकल कॉर्पोरेट कर में भी 19.5 फ़ीसद का इजाफा हुआ है। वहीं रिफ़ंड के बाद शुद्ध रूप से कॉर्पोरेट कर में 18.7% तथा व्यतिगत आयकर में 14.9 फ़ीसद का इजाफा हुआ है।

About the author

प्रियाँन्शु

Add Comment

Click here to post a comment




फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!