दा इंडियन वायर » समाचार » पश्चिम बंगाल में अब नहीं होगी कोई बड़ी रैली: भाजपा
राजनीति समाचार

पश्चिम बंगाल में अब नहीं होगी कोई बड़ी रैली: भाजपा

देशभर में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच भारतीय जनता पार्टी भाजपा ने सोमवार को घोषणा की कि वह तत्काल प्रभाव से पोल बाउंड पश्चिम बंगाल में कोई बड़ी रैली या रोड शो आयोजित नहीं करेगी। भगवा पार्टी द्वारा यह निर्णय राज्य में चल रहे विधानसभा चुनाव के आठवें और अंतिम चरण के चुनाव प्रचार के अंत से पहले आया है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी या राज्य में पार्टी के किसी अन्य नेता द्वारा संबोधित किसी भी सार्वजनिक सभा या रैली में 500 से अधिक लोग मौजूद नहीं होंगे। भारतीय जनता पार्टी ने महामारी को देखते हुए पूरे राज्य में 6 करोड़ से अधिक मास्क और सैनिटाइजर भी बाटे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता जैसे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और अध्यक्ष जेपी नड्डा अगले कुछ दिनों तक बंगाल में चुनाव प्रचार करेंगे। रविशंकर प्रसाद, स्मृति ईरानी और गजेंद्र शेखावत सहित वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री भी प्रचार अभियान में शामिल होंगे। ऐसी सभाओं में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने पर पूरा जोर डाला जाएगा।

महामारी के बावजूद बंगाल में भाजपा विधानसभा चुनाव के लिए बिना रुके रैलियां और रोड शो करने में लगी थी, इसी कारण उन्हें कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा। अपनी विशाल रैलियों और रोड शो पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय इसी आलोचना का नतीजा है। इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने राज्य में अपनी पार्टी द्वारा आयोजित सभी अभियान रैलियों को रद्द करने की घोषणा की थी।

बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी ने भी हाल ही यह घोषणा की थी कि वह कोविड-19 को मद्देनजर रखते हुए राज्य में कोई बड़ी रैली नहीं करेंगी। लेकिन चरण के आखिरी दिन 26 अप्रैल को कोलकाता में बस एक आखिरी रैली करेंगी।

विधानसभा चुनाव के चलते चुनाव आयोग के नए नियम

चुनाव आयोग के नए उपायों के अनुसार कोई भी अभियान शाम 7:00 से 10:00 के बीच नहीं होगा। राजनीतिक दलों पर यह सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी है कि उनके अभियान के दौरान उचित सोशल डिस्टेंसिंग यानी उचित दूरी बनाए रखने और मास्क पहनने का प्रावधान ना टूटे। रैलियों में मास्क और हैंड सैनिटाइजर बांटने अनिवार्य है। प्रशासन को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है कि चुनाव प्रचार के दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन बिल्कुल भी ना हो।

About the author

दीक्षा शर्मा

गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय, दिल्ली से LLB छात्र

1 Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!