Thu. May 23rd, 2024
    परेश रावल

    भाजपा सांसद और फिल्म अभिनेता परेश रावल अपनी हाजिरजवाबी के लिए जाने जाते है। चर्चित मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखने की वजह से ही उनके समर्थकों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। परेश रावल लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी नीतियों की तारीफ करते रहे हैं और कांग्रेस पर व्यंगपूर्ण तंज कसते नजर आए हैं। इसी क्रम में उन्होंने अपने ट्वीट के माध्यम से नाम लिए बगैर राहुल गाँधी और कांग्रेस पर तंज कसा है। बता दें कि गुजरात में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी हाल ही में अपने तीन दिवसीय सौराष्ट्र दौरे से लौटे हैं। पाटीदार आन्दोलन के कारण भाजपा गुजरात में बैकफुट पर नजर आ रही थी। “विकास पागल हो गया” के नारे ने भाजपा की परेशानियों को और बढ़ा कर रखा है।

    कांग्रेस इस नारे को भाजपा सरकार के खिलाफ अपने चुनावी कैंपेन में इस्तेमाल कर रही थी। गुजरात भाजपा इससे परेशान नजर आ रही थी। ऐसे में भाजपा सांसद परेश रावल पार्टी के लिए एक बार फिर संकटमोचक की भूमिका में नजर आए हैं। परेश रावल ने मोर्चा सँभालते हुए अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है, “विकास पागल है की नहीं वो तो वक़्त बतायेगा पर एक बात तय है की पागलों के हाथों में विकास नहीं जाना चाहिये!” परेश रावल के इस ट्वीट को लोगों की जबरदस्त प्रतिक्रिया मिल रही है।

    भाजपा सांसद परेश रावल इसके बाद भी नहीं रुके और उन्होंने कांग्रेस को उत्तर प्रदेश चुनावों के वक्त की भी याद दिला दी। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के दौरान राहुल गाँधी के दिए गए बयान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि “गुजरात के विकास को पागल और उत्तर प्रदेश के चुनाव में गुजराती को गधे कहने वाले अब वोट की भीख मांगने गुजरात आये हैं। बेशर्मी के बादशाहों का स्वागत है !” बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के वक्त कांग्रेस-सपा का गठबन्धन था और उन्होंने “गुजराती घुड़कर” कहकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा पर निशाना साधा था।

    अपनी गुजरात यात्रा के दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने गुजरात की सत्ताधारी भाजपा सरकार के साथ-साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला बोला था। पूरे दौरे के दौरान राहुल गाँधी ने हिंदुत्व आधारित राजनीति का सहारा लिया था और नवरात्रि के समय सौराष्ट्र का दौरा कर वोटरों को रिझाने का प्रयास किया था। राहुल गाँधी ने मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा था कि नरेंद्र मोदी किसी की नहीं सुनते हैं। अगर वो लोगों की सुनने लगे तो देश की आधी समस्याएं हल हो जाएंगी। राहुल गाँधी ने पाटीदार आन्दोलन के अगुआ हार्दिक पटेल से भी मुलाकात की थी और आगे की रणनीति को लेकर उनसे चर्चा की थी। परेश रावल ने अपने ट्वीट के माध्यम से कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी द्वारा अपने तीन दिवसीय दौरे से बनाए गए माहौल का जमकर माखौल उड़ाया है।

    By हिमांशु पांडेय

    हिमांशु पाण्डेय दा इंडियन वायर के हिंदी संस्करण पर राजनीति संपादक की भूमिका में कार्यरत है। भारत की राजनीति के केंद्र बिंदु माने जाने वाले उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले हिमांशु भारत की राजनीतिक उठापटक से पूर्णतया वाकिफ है।मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के बाद, राजनीति और लेखन में उनके रुझान ने उन्हें पत्रकारिता की तरफ आकर्षित किया। हिमांशु दा इंडियन वायर के माध्यम से ताजातरीन राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर अपने विचारों को आम जन तक पहुंचाते हैं।