Mon. Apr 22nd, 2024
    पाकिस्तानी एजेंट

    पंजाब के फिरोजपुर में पाकिस्तानी मूल के दो संदिग्ध भारतीय सीमा में दाखिल होने की कोशिश कर रहे थे। दोनों की पहचान सिराज अहमद (31) और मुमताज़ खान (38) के रूप मे हुई है। यह दोनों आरोपी सुरक्षाकर्मियों की सीमा पर  गश्त के दौरान पकड़े गए थे। रिपोर्ट के मुताबिक दोनों पाकिस्तान सेना के बलोच रेजिमेंट से है।

    सुरक्षा कर्मियों ने आरोपियों का पास से 3660 रूपए, एक मोबाइल फ़ोन, मुमताज़ नाम का सिम कार्ड, पाकिस्तानी सेना के दो आईडी कार्ड, चार फोटो, एक स्मार्ट फ़ोन और अहमद के पास 1040 रूपए बरामद किये थे।

    पिछले सप्ताह उत्तर प्रदेश की पुलिस ने बुलंदशहर से एक संदिग्ध आईएसआई के एजेंट को गिरफ्तार किया था। संदिग्ध का नाम जाहिद था। इस महीने की शुरुआत में पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी की जासूसी का खुलासा हुआ था।

    ब्रह्मोस में एयरोस्पेस इंजिनियर निशांत अग्रवाल को पुलिस ने ख़ुफ़िया सूचना साझा करने के जुर्म में गिरफ्तार किया था। ख़बरों के मुताबिक निशांत अग्रवाल को पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी ने हनीट्रैप में फंसाया था।

    हाल ही में पंजाब के जालंधर शहर में तीन कश्मीरी युवायों को कॉलेज के हॉस्टल परिसर में हथियारों को रखने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया था। इन तीन छात्रों को कश्मीर के आतंकी समूह घाज्वत-उल-हिन्द के गुर्गे बताया जा रहा था। सूत्रों के मुताबिक घाज्वत-उल-हिन्द का पाकिस्तान के आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद का से नाता है।

    इस आन्तंकी समूह का मकसद पंजाब में युवाओं को बरगलाना और अपराधियों को बढ़ावा देना है। पाकिस्तान से ऑपरेशन रीसाईकल और ऑपरेशन रेदिकालिसे का संचालन पंजाब में होता है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *