Tue. Dec 6th, 2022
    अरविंद केजरीवाल

    दिल्ली के मुख़्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली में बढे प्रदुषण के स्तर के लिए पंजाब के किसानो द्वारा पराली जलाये जाने को जिम्मेदार ठहराया है।

    केजरीवाल ने किसानो को पराली मैनेजमेंट मशीनरी उपलब्ध न कराये जाने के लिए केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा।

    पंजाब और हरियाणा के खेतों में पराली जलाये जाने के सैटेलाइट तस्वीरों के माध्यम से केजरीवाल ने दिल्ली में बढे प्रदूषण के कारणों को सामने रखा। उन्होंने इस बात को सिरे से खारिज कर दिया कि ट्रैफिक और इंडस्ट्री के कारण दिल्ली में प्रदूषण बढ़ा है।

    केजरीवाल ने मीडिया से बात करते हुए कुछ सैटेलाइट तस्वीरें दिखाई और कहा कि ‘ये देखिये  .. ये जो लाल लाल धब्बे दिख रहे हैं वो भठिंडा और अमृतसर सहित पंजाब के कई हिस्सों में जलाये जा रहे पराली के हैं। इससे ज्यादा वैज्ञानिक प्रमाण नहीं हो सकता कुछ।’

    उन्होंने हरियाणा का भी जिक्र करते हुए कहा कि हरियाणा के कुछ हिस्सों में भी पराली जलाये जा रहे हैं लेकिन वो बहुत कम मात्रा में हैं।

    केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए केजरीवाल ने कहा कि केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने उनसे वादा किया था कि पंजाब और हरियाणा के किसानो को पराली मैनेजमेंट मशीनरी मुहैया कराई जायेगी। लेकिन अब तक उसका कुछ पता नहीं है।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि हर साल अक्टूबर और नवम्बर के महीने में ही प्रदूषण का स्तर बढ़ता है क्योंकि इन्ही महीने में पंजाब और हरियाणा में पराली जलाये जाते हैं।

    उन्होंने कहा कि सिर्फ दिल्ली ही नहीं आस पास के नोएडा, ग़ाज़ियाबाद, गुड़गांव के लोगों को भी मुसीबतें झेलनी पड़ती है। हम सब को जिम्मेदारी से काम करना पड़ेगा ताकि लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा असर ना पड़े।

    By आदर्श कुमार

    आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *