मंगलवार, नवम्बर 19, 2019

नेपाल-भूटान भारत से अलग नहीं हो सकते: जनरल रावत

Must Read

राज्यसभा के सभापति एम.वेंकैया नायडू की सांसदों से अपील संसदीय प्रवर समिति की बैठक में शामिल हो

पिछले हफ्ते वायु प्रदूषण पर महत्वपूर्ण बैठक में विभिन्न सांसदों के गैरहाजिर होने की वजह से बैठक स्थगित होने...

आस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन से दिए क्रिकेट को अलविदा कहने के संकेत

आस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन ने सोमवार को कहा है पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली जाने...

इलेक्टोरल बांड को लेकर प्रियंका गांधी का भाजपा सरकार पर हमला, कहा आरबीआई को दरकिनार कर मंजूरी दी गई

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सोमवार को इलेक्टोरल बांड का मुद्दा उठाते हुए आरोप लगाया कि इन्हें भारतीय रिजर्व...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

आर्मी चीफ जनरल विपिन रावत ने बीते रविवार को बिम्सटेक मिलेक्स-18 सैन्याभ्यास समारोह में शिरकत की। उन्होंने सम्मलेन में कहा कि नेपाल व भूटान अपनी भौगोलिक संरचना के कारण खुद को भारत से अलग नही कर सकते है। नेपाल और भूटान की भौगोलिक स्थिति चीन से जुड़ने के पक्ष में नहीं है।

नेपाल के बिम्सटेक के दूरी बनाये रखने के बाबत जब उनसे सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि काठमांडू और थिम्फू बॉर्डर की वजह से भारत से जुदा नहीं हो सकते हैं। वे प्राकृतिक स्थिति के कारण हमसे जुड़े है फिर चाहे वह चीन के साथ अधिक सहज महसूस करते हो।

उन्होंने कहा हम अपने पड़ोसियों के साथ रिश्तों को मज़बूत करने के लिए प्रयास कर रहे हैं. हमारे नेताओं द्वारा पड़ोसी पहले और बिम्सटेक जैसे आयोजन इस प्रभावशाली नीति का एक हिस्सा है। भारत एक विशाल देश हैं जब हम शुरुआत करेंगे तभी अन्य देश भी इसी राह पर आगे बढ़ेंगे।

बिम्सटेक के सात राष्ट्रों में से भारत, भूटान, श्रीलंका, म्यांमार और बांग्लादेश इस सैन्याभ्यास में भाग ले रहे हैं वहीं नेपाल और थाईलैंड ने निगरानी टीम को भेजा है।

जनरल रावत ने कहा कि पाकिस्तान और अमेरिका के वर्तमान संबंधो से हम सीख ले सकते हैं, हमें घबराने की जरुरत नहीं हैं देश को मज़बूत बनाने के ओर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए।

जनरल रावत ने कहा की चीन भारत का अर्थव्यवस्था में उभरता हुआ प्रतिद्वंदी हैं। दोनों देशों की एक ही बाज़ार पर नज़र है। भविष्य में बिम्सटेक का दोबारा आयोजन पर उन्होंने कहा कि आतंकवाद को संरक्षण के लिए भारत ऐसे अभ्यास के पक्षधर रहेगा। भविष्य में यह सैन्याभ्यास कहाँ होगा अभी यह तय होना बाकी है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

राज्यसभा के सभापति एम.वेंकैया नायडू की सांसदों से अपील संसदीय प्रवर समिति की बैठक में शामिल हो

पिछले हफ्ते वायु प्रदूषण पर महत्वपूर्ण बैठक में विभिन्न सांसदों के गैरहाजिर होने की वजह से बैठक स्थगित होने...

आस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन से दिए क्रिकेट को अलविदा कहने के संकेत

आस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन ने सोमवार को कहा है पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज के बाद...

इलेक्टोरल बांड को लेकर प्रियंका गांधी का भाजपा सरकार पर हमला, कहा आरबीआई को दरकिनार कर मंजूरी दी गई

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सोमवार को इलेक्टोरल बांड का मुद्दा उठाते हुए आरोप लगाया कि इन्हें भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को दरकिनार करते...

मोइन अली ने कहा, आईपीएल जीतने के लिए आरसीबी नहीं रह सकती विराट कोहली और डिविलियर्स के भरोसे

इंग्लैंड के हरफनमौला खिलाड़ी मोइन अली उन दो विदेशी खिलाड़ियों में से हैं जिन्हें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी...

श्रीलंका राष्ट्रपति चुनाव: गोटाबाया राजपक्षे की जीत पर पाकिस्तान के राजनैतिक गलियारों में खुशी, भारत के लिए झटका

श्रीलंका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में गोटाबाया राजपक्षे की जीत पर पाकिस्तान के राजनैतिक गलियारों में खुशी जताई जा रही है। मीडिया में...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -