गुरूवार, अक्टूबर 17, 2019

नीतीश कुमार का सरकार को संदेश, कहा- धारा 370 से छेड़छाड़ न करें

Must Read

सेंसेक्स 453 अंक ऊपर (लीड-1)

मुंबई, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। देश के शेयर बाजारों में गुरुवार को तेजी दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 453.07...

पाकिस्तान ने बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाया

इस्लामाबाद, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत के अंदरूनी मामलों में प्रत्यक्ष रूप से दखल देते हुए पाकिस्तान ने बाबरी मस्जिद...

पशुपालन से 4 गुनी हो सकती है किसानों की आय : सचिव (एक्सक्लूसिव इंटरव्यू)

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। किसानों की आमदनी 2022 तक दोगुनी करने के मोदी सरकार के लक्ष्य को हासिल...

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज सरकार को कश्मीर को मिले विशेष प्रावधान की याद दिलाई है। ज्ञात हो कि संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत कश्मीर को स्पेशल स्टेटस दिया गया है। उन्होंने कहा है कि यदि सरकार पाकिस्तान को पुलवामा हमले का जवाब देना चाहती है तो उसके कारण कश्मीरियों पर जो प्रभाव पड़ेगा उनका ध्यान भी रखना होगा।

नीतीश कुमार ने सीधे तौर पर कहा कि,”पुलवामा में जो हुआ उससे सबके अंदर गुस्सा है, लेकिन सरकार को अनुच्छेद 370 से छेड़छाड़ नहीं करनी होगी।”

अनुच्छेद 370 को लेकर पहले से ही देश में राजनीतिक उथल-पुथल होती आई है। उन्होंने सरकार को इस अनुच्छेद के संदर्भ में आगाह भी किया है। उन्होंने कहा कि ऐसा करने से समस्या औऱ बढ़ जाएगी।

आज उन्होंने कहा, “सरकार इस आंतकवादी हमले के बदले जो जवाब देना चाहती हैं बेशक दें। इस बात पर कोई मतभेद नहीं है, लेकिन बदला अनुच्छेद 370 की कुर्बानी देकर नहीं होना चाहिए।”

भाजपा शुरु से ही इस विशेषाधिकार की विरोधी रही है। नीतीश कुमार फिलहाल आम चुनाव में भाजपा के साथ खड़े हैं लेकिन इस बयान के बाद ऐसा लग रहा है कि दोनों की विचारधारा मेल नहीं खा रही।

भाजपा हमेशा से कहती है कि संविधान के अनुच्छेद 370 में संसोधन की जरुरत है। उन्होंने इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी डाली थी। सर्वोच्च न्यायालय ने राज्य की संवेदनशील स्थिति का हवाला देते हुए केंद्र की इस अपील को अप्रैल महीने तक के लिए टाल दिया था।

वर्तमान में यह पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले के कारण फिर से चर्चा में आ गया है। इस हमले में 40 सीआऱपीएफ के जवान शहीद हो गए थे।

राजस्थान के गवर्नर कल्याण सिंह ने एएनआई से बात की औऱ बताया कि “अनुच्छेद 370 को खत्म करने का समय आ गया है, यह अलगाववादियों को प्रोत्साहित करता है और देश की एकता और अखंडता के लिए खतरा बनता जा रहा है।”

वहीं नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख उमर अब्दुल्ला ने कहा कि “देश के कुछ हिस्सों में कश्मीरी छात्रों और व्यापारियों को बेवजह आतंकी हमले का निशाना बनाया गया है। उन्होंने इस मुद्दे पर भाजपा और कांग्रेस की “चुप्पी” को लेकर भी नाराज़गी जताई है।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

सेंसेक्स 453 अंक ऊपर (लीड-1)

मुंबई, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। देश के शेयर बाजारों में गुरुवार को तेजी दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 453.07...

पाकिस्तान ने बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाया

इस्लामाबाद, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत के अंदरूनी मामलों में प्रत्यक्ष रूप से दखल देते हुए पाकिस्तान ने बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाया है और...

पशुपालन से 4 गुनी हो सकती है किसानों की आय : सचिव (एक्सक्लूसिव इंटरव्यू)

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। किसानों की आमदनी 2022 तक दोगुनी करने के मोदी सरकार के लक्ष्य को हासिल करने में कृषि से संबद्ध...

देवोलीना भट्टाचार्जी का जीवन परिचय

हिंदी सीरियल में आज्ञाकारी बहु के किरदार को दर्शाने वाली 'गोपी बहु' यानि 'देवोलीना भट्टाचार्जी' जिनके अभिनय को स्टार प्लस के सीरियल 'साथ निभाना...

दिल्ली : फिर गिरा शेर के पिंजरे में युवक, उसके बाद क्या हुआ तमाशा?

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली स्थित चिड़िया घर में एक युवक गुरुवार को शेर के पिंजरे में जा गिरा। शेर के सामने युवक...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -