Fri. May 24th, 2024
    नवजोत कौर सिद्धू

    पंजाब की पूर्व विधायक नवजोत कौर सिद्धू चंडीगढ़ से टिकट न देने के कांग्रेस के फैसले से हुई निराशा को छुपा नही सकी। जहां की जनसभाएं उन्होंने पार्टी की ओर से उम्मीदवार की घोषणा से पहले ही शुरु कर दी थी। कांग्रेस ने चंडीगढ़ से पूर्व रेल मंत्री पवन कुमार बंसल को उम्मीदवार बनाने का ऐलान किया हैं।

    नवजोत कौर ने कहां कि मुझे खुशी होती अगर वह उस महिला का सम्मान करते जो अपने व्यक्तिगत कार्यो को दिखाने का प्रयास कर रही थी। उन्होने कहा कि उन्हे खुद को राजनीति मे समर्पित करने के लिए अपना स्त्री रोग विशेषज्ञ का पेशा छोड़ दिया।

    बता दें पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह की पत्नी नवजोत कौर और पूर्व मंत्री मनीष तिवारी ने कांग्रेस के गढ़ माने जाने वाले चडीगढ़ चुनाव लड़ने के लिए दावेदारी पेश की थी।

    इस सीट पर 2014 में भाजपा की उम्मीदवार किरण खेर को जीत हासील हुई थी।

    भाजपा की पूर्व विधायक नवजोत कौर ने अपनी निराशा व्यक्त करते हुए कहां की कांग्रेस जैसा भी काम कर रही हैं वह ठीक हैं।

    नवजोत कौर ने अपने समर्थकों के सभा बैठक की जोकि उनके साथ करीबन एक महीने से अधिक समय से हैं, जब से चंडीगढ़ में जनसभाएं करना आरम्भ किया था। उन्होंने कहां की वह पार्टी के नेतृत्व से पहले किसी का प्रतिनिधित्व नही करती। उन्होंने कहांं कि वह अकेली हैं, वह खुद आवेदन के लिए गई उन्होंने स्वम् की लड़ाई लड़ी।

    उन्होंने यह स्पष्ट किया की चंडीगढ़ के अलावा वह किसी और सीट से चुनाव नही लड़ना चाहती।

    उन्होंने कहा कि पवन कुमार पार्टी के वरिष्ट नेता हैं और हम सब पार्टी के फैसले का सम्मान करते हैं और पवन कुमार को जिताने के लिए काम करेंगे। मैं उनके फैसले का स्वागत करती हूँ ऐसा नही हैं कि वह कोई नए नेता है वह पार्टी के वरिष्ट नेता हैं।

    उनसे पूछा गया कि क्या वह पवन कुमार के लिए चुनाव प्रचार करेंगी तो उन्होंने कहा की अगर उनको मेरी जरुरत होगी तो जरूर करूगीं।

    नवजोत सिंह सिद्धू और नवजोत कौर सिद्धू 2017 के विधांसभा चुनाव के समय भाजपा से कांग्रेस में आ गए थे।

    चंडीगढ़ में 19 मई को लोकसभा चुनाव होने जा रहे हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *