Sun. Apr 14th, 2024
    narendra modi

    बठिंडा(पंजाब), 13 मई (आईएएनएस)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि वह 1984 सिख विरोधी दंगा पीड़ितों के न्याय के लिए लड़ेंगे और केंद्र की पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकारों पर 35 वर्षो में उनके लिए न्याय नहीं करने के आरोप लगाए।

    मोदी ने यहां चुनावी जनसभा में कहा, “पूरा देश जानता है कि नामदार के गुरु (सैम पित्रोदा) ने 1984 दंगों के बारे में क्या कहा है। सच बाहर आ गया है इसलिए पार्टी में अफरातफरी की स्थिति है।”

    उन्होंने प्रकाश सिंह बादल और अन्य अकाली नेताओं की मौजूदगी में कहा, “नामदार आपको शर्मिदा होना चाहिए। ‘हुआ तो हुआ’ का क्या मतलब है? लोगों को जिदा जला दिया गया, परिवारों को बर्बाद कर दिया गया। इसके बावजूद आप कहते हैं कि ‘हुआ तो हुआ’।”

    बादल की बहू हरसिमरत कौर एकबार फिर यहां से शिरोमणी अकाली दल-भाजपा उम्मीदवार के रूप में चुनावी मैदान में हैं।

    प्रधानमंत्री ने कहा, “इस चौकीदार ने आश्वस्त किया है कि वह 1984 पीड़ितों के न्याय के लिए लड़ेगा। बादल साहब के आशीर्वाद से, हम एक को मृत्युदंड और एक को उम्रकैद की सजा दिलवाने में सफल रहे।”

    उन्होंने कहा, “इसके अलावा जो भी जिम्मेदार है उसे भी दोषी ठहराया जाएगा।”

    इससे पहले दिन में, खन्ना शहर में एक रैली के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि उन्होंने सैम पित्रोदा को 1984 दंगे से संबंधित बयान के लिए देश से माफी मांगने के लिए कहा है और कहा कि जो दोषी हैं उन्हें सजा दिया जाना चाहिए।

    उनके बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए मोदी ने कहा, “नामदार, आप किस चीज के लिए अपने मेंटर को डांटने का बहाना करते हो? क्योंकि उन्होंने सार्वजनिक रूप से वह कहा था जो हमेशा कांग्रेस के दिल में रहता है? इसके लिए आपको शर्मिदा होना चाहिए।”

    पंजाब की 13 लोकसभा सीटों पर 19 मई को मतदान होंगे।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *