Wed. Apr 24th, 2024
    'नच बलिए 9' जज करने पर रवीना टंडन: मैं हमेशा प्रतियोगियों को बेहतर करने के लिए प्रोत्साहित करुँगी

    टीवी रियलिटी शो ‘नच बलिए 9‘ जिसका निर्माण इस बार सलमान खान कर रहे हैं, का प्रीमियर एपिसोड पहले ही प्रसारित हो चूका है। तीन दिन के प्रीमियर में होस्ट मनीष पॉल और सलमान ने पहले जज- रवीना टंडन और अहमद खान को पेश किया और फिर उसके बाद से सभी जोड़ियों पर से नकाब उतारा। अब एक इंटरव्यू के दौरान, रवीना ने बताया कि लांच एपिसोड कैसे शूट हुआ था।

    रवीना प्रीमियर एपिसोड को मिली शानदार प्रतिक्रिया से बहुत खुश हैं और साझा किया कि जो निर्माता चाहते थे वही हुआ। इसके अलावा, रवीना इस सीजन को लेकर इसलिए उत्साहित हैं क्योंकि इसमें कुछ प्रतिभाशाली प्रतिभागी भी हिस्सा ले रहे हैं। उनके मुताबिक, “मुझे लगता है कि ये सीजन देखने में बहुत अच्छा होने वाला है। निर्माताओं ने हमे भी प्रतियोगियों के नाम नहीं बताये थे। उनके नाम खुलते देखना बहुत दिलचस्प था।”

    raveena tadon

    “यहाँ तक कि हम भी जब जज के रूप में वहां बैठे थे, हमारे लिए भी सरप्राइज था। उन्होंने इस तरह राज़ बनाये रखा था कि वैनिटी वैन पर भी उनके नाम नहीं थे। इसलिए किसी को नहीं पता था कि वैन के अंदर कौन है। वे बिलकुल जेम्स बांड की फिल्म जैसा सेट-अप था।”

    लांच एपिसोड में रवीना ने ब्लैक शिमरी जम्पसूट पहना था जिसमे अभिनेत्री बहुत खूबसूरत लग रही थी। एपिसोड बहुत मनोरंजक था और अभिनेत्री ने भी बताया कि उन्हें शूटिंग करते वक़्त कितना आनंद आया था। उन्होंने साझा किया-“लॉन्च एपिसोड एक धमाका था। हमने तीन दिन तक बिना रुके शूटिंग की। टेलीविजन सितारों द्वारा प्रदर्शन किया गया था, जो हमारे प्रतियोगियों के दोस्त हैं, जिसके कारण एक अनूठा परिचय हुआ। यह वास्तव में रोमांचक और बहुत मजेदार था  क्योंकि कांसेप्ट इतना अलग, पेचीदा और दिलचस्प है।”

    raveena

    वैसे रवीना पहली भी कई रियलिटी शो को जज कर चुकी हैं लेकिन ‘नच बलिए’ वह पहली बार जज कर रही हैं। उन्होंने कहा कि वह शो पर हमेशा प्रतियोगियों को बेहतर करने के लिए प्रोत्साहित करेंगी और हमेशा उनके प्रति संवेदनशील रहेंगी। उनके मुताबिक, “मैं हमेशा उस तरह का व्यक्ति रहे हूँ जो दूसरों को प्रोत्साहित और प्रेरित करता है। मुझे नहीं लगता कि जज करने का मतलब है कि आप केवल बैठते हैं और आलोचना करते हैं।”

    “हर कोई अपना सर्वश्रेष्ठ करने की कोशिश कर रहा है और कोई भी जानबूझकर खराब प्रदर्शन नहीं करना चाहता है, लेकिन कभी-कभी चीजें गलत हो जाती हैं। एक जज को संवेदनशील होना चाहिए और प्रतिभागियों के मनोबल को बढ़ावा देना चाहिए। एक अच्छा जज मूल रूप से एक है जो गलतियां बताता है, लेकिन प्रतिभागी को यह भी बताता है कि यह अंत नहीं है।”

     

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *