Wed. Feb 28th, 2024
    भारती एयरटेल

    आधार को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एयरटेल अब अपने ग्राहकों की पहचान को पुख्ता करने के लिए ‘वैकल्पिक डिजिटल केवाईसी’ की सुविधा लाया है।

    एयरटेल ने अपनी इस सुविधा की शुरुआत अभी चुनिन्दा सर्कलों में ही की है। इसके तहत एयरटेल ने दिल्ली, यूपी (पूर्व) व यूपी (पश्चिम) को चुना है। एयरटेल ने बताया है कि इसी के साथ यह सुविधा अभी अन्य सर्कलों में भी जारी की जाएगी।

    ‘वैकल्पिक डिजिटल केवाईसी’ सुविधा के तहत एयरटेल ग्राहकों के पहचान पत्र व निवास प्रमाण पत्र की स्कैन कॉपी के साथ ही ग्राहक की लाइव फोटो भी ले रहा है। इस प्रक्रिया के तहत एयरटेल अपने ग्राहकों से ऑनलाइन अधिग्रहण फॉर्म भरवा रहा है। एयरटेल की ये प्रक्रिया पूर्ण रूप से डिजिटल है।

    हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने आधार को लेकर आदेश दिया था कि कोई भी निजी कंपनी अपने ग्राहक के लिए आधार को अनिवार्य नहीं कर सकती है। इसी के बाद से इन सभी टेलीकॉम कंपनियों ने UIDAI के साथ बैठक कर हल निकालने की कोशिश की थी

    यह भी पढ़ें: UIDAI ने पेमेंट कंपनियों को आधार सम्बंधित सेवाएं रोकने को कहा।

    एयरटेल के अधिकारियों ने बताया है कि ‘वैकल्पिक डिजिटल केवाईसी’ ‘आधार आधारित केवाईसी’ की जगह ले लेगा, इसे अब पूरे देश में लागू किए जाने पर विचार किया जा रहा है। इसके चलते ग्राहक व कंपनी दोनों को ही सहूलियत होगी।

    दूसरी ओर वोड़ाफोन और आइडिया भी अब वैकल्पिक केवाईसी पर विचार कर रहे हैं, लेकिन इन दोनों ही कंपनियों ने अभी अपने ग्राहकों के लिए इस सुविधा का ऐलान नहीं किया है।

    मालूम हो कि 26 अक्टूबर को ही दूरसंचार विभाग (डॉट) ने इन कंपनियों से अपने ग्राहकों की पहचान को पुख्ता करने के लिए आधार के जरिये केवाईसी प्रक्रिया पर रोक लगा दी थी। डॉट ने इसके लिए बकायदा एक सर्क्युलर भी  जारी किया था।

    यह भी पढ़ें: पासपोर्ट सेवा केंद्र की तर्ज़ पर आधार सेवा केंद्र स्थापित करेगा UIDAI

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *