दा इंडियन वायर » व्यापार » सुनील मित्तल का भारती समूह दान करेगा करीब 7000 करोड़
व्यापार

सुनील मित्तल का भारती समूह दान करेगा करीब 7000 करोड़

भारती फाउंडेशन
भारती फाउंडेशन के अध्यक्ष सुनील मित्तल ने मानव-कल्याण के लिए करीब 7000 करोड़ रूपए दान देने की प्रतिज्ञा की है।

भारती एंटरप्राइजेज के संस्थापक और अध्यक्ष सुनील मित्तल ने गुरूवार को भारती परिवार की तरफ से मानव-कल्याण के लिए करीब 7000 करोड़ रूपए दान देने की प्रतिज्ञा की है। सुनिल मित्तल ने कहा कि भारती परिवार के डीएनए में हमेशा से ही कारोबार के साथ-साथ सामाजिक विकास को प्रोत्साहन करना रहा है।

इस दान के जरिये मित्तल और उनका समूह भारत में शिक्षा के स्तर में योगदान देना चाहता है। भारती मित्तल ने बताया कि इस पैसे से कई शिक्षा संस्थान बनाए जायेंगे। इसके अलावा गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए छात्रवृति भी दी जायेगी।

भारत के विकास में भारती फाउंडेशन ने काफी मदद की है। सुनिल मित्तल की अगुवाई वाली भारती फाउंडेशन ने करीब 7000 करोड़ रूपए या संपति के 10 प्रतिशत, जो भी ज्यादा हो उसे दान देने की प्रतिज्ञा की है।

भारती परिवार ने इतनी बड़ी राशि को भारत के जरूरतमंदों के लिए उपयोग करने के लिए कहा है। भारती फाउंडेशन के माध्यम से भारत के वंचितों की आकांक्षाओं को समर्थन किया जाएगा व उन्हें सक्षम बनाया जाएगा। इसमे सत्य भारती स्कूल के छात्र भी शामिल है।

द गिविंग प्लेज पहल से जुड़ चुके है कई भारतीय उद्योगपति

हाल ही में अभी कुछ दिनों पहले ही इन्फोसिस के चेयरमैन नंदन नीलेकणि और पत्नी रोहिणी ने वॉरेन बफेट व बिल गेट्स द्वारा प्रायोजित द गिविंग प्लेज पहल पर हस्ताक्षर किए थे। इस पहल के तहत अपने धन के बहुमत को दान किया जाना तय हुआ है।

द गिविंग प्लेज पहल दुनिया के धनी लोगों को दान करने के लिए किया गया एक निमंत्रण है। इस पहल के हस्ताक्षरकर्ता अपने जीवनकाल में कम से कम उनके धन का आधा हिस्सा दे देते हैं या अपनी इच्छा के मुकाबले धन दान करते है।

इस पहल पर भारतीयों में से विप्रो के अध्यक्ष अजीम प्रेमजी, बायोकॉन के प्रबंध निदेशक किरण मजूमदार-शॉ और शोभा डवलपर्स के पीएनसी मेनन ने हस्ताक्षर किए है। इसी क्रम में अब भारती समूह भी शामिल हो गया है।

भारती फाउंडेशन के अध्यक्ष सुनिल मित्तल ने कहा कि जब हमारा व्यापार छोटा था तब हम छोटे तरीके से मदद करते थे। जैसे-जैसे हमारा ग्रुप बड़ा होता गया है, हम व्यापक राष्ट्र निर्माण प्रक्रिया का हिस्सा बनते रहे है।

भारती फाउंडेशन ने आईआईटी दिल्ली में भारती स्कूल ऑफ दूरसंचार प्रौद्योगिकी और प्रबंधन, आईआईटी मुंबई में भारती संचार केन्द्र और आईएसबी मोहाली में भारती इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक पॉलिसी के निर्माण का भी समर्थन किया है। इसमें कई छात्रवृत्ति कार्यक्रमों की स्थापना की है।

ब्रिटेन के कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में अध्ययन करने वाले भारतीय छात्रों के लिए प्रमुख छात्रवृत्ति कार्यक्रम शुरू किया जाएगा। आज भारत ही नहीं विदेशों में भी भारती फाउंडेशन ने सामाजिक व मानव विकास के लिए कहीं कार्यक्रम चला रखे है।




फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!