Fri. Feb 3rd, 2023
    मुकेश अंबानी भारत अर्थव्यवस्था

    इसमें कोई दो राय नहीं है कि आज की तारीख में मुकेश अंबानी भारत के अमीर लोगों में पहले स्थान पर काबिज हैं, यही नहीं फोर्ब्स ने भी अंबानी को इंडिया के टॉप 100 अरबपतियों में पहले स्थान पर रखा है। लेकिन क्या आप को पता है, देश के इन 6 बिजनेसमैन ने एक साल के अंदर ज्यादा दौलत कमाने के मामले में मुकेश अंबानी को धूल चटा दी है?

    प्रतिष्ठित फोर्ब्स पत्रिका ने इन लोगों को बिगेस्ट गेनर्स की संज्ञा दी है। इस बिगेस्ट गेनर्स सूची में पंतजलि के डायरेक्टर आचार्य बालकृष्ण पहले स्थान पर काबिज हैं, जिन्होंने एक साल के अंदर अपनी दौलत में 162 फीसदी का इजाफा किया है।

    यह भी पढ़ें : भारत के 10 सबसे अमीर आदमियों की सूचि

    वहीं एक साल के अंदर मुकेश अंबानी की दौलत में मात्र 67 फीसदी की ही बढ़ोतरी हुई है। आइए जानें, उन 6 बिगेस्ट गेनर्स की संपत्ति के बारे में जिन्होंने एक साल के अंदर ज्यादा दौलत कमाने के मामले में मुकेश अंबानी को भी पछाड़ दिया है।

    आचार्य बालकृष्ण की पूंजी बढ़ी

    पतंजलि आयुर्वेद: आचार्य बालकृष्ण

    पतंजलि आयुर्वेद के मैनेजिंग डायरेक्टर आचार्य बालकृष्ण की संपत्ति 42 हजार करोड़ रुपए है। जबकि साल 2016 में इनके पास पूंजी के रूप में मात्र 16 हजार करोड़ रुपए थे। लेकिन एक साल के अंदर बालकृष्ण ने 26,200 करोड़ रुपए लाभ के साथ अपनी दौलत में कुल 162 फीसदी का इजाफा किया है।

     समीर गहलोत की पूंजी बढ़ी

    इंडिया बुल्‍स ग्रुप: समीर गहलोत

    इंडिया बुल्‍स ग्रुप के संस्थापक और चेयरमेन समीर गहलोत के पास 20,000 करोड़ रुपए की संपत्ति है। साल 2016 में गहलोत की संपत्ति 10,000 करोड़ रूपए थी। आंकड़ों के अनुसार समीर गहलोत की पूंजी 10,000 करोड़ रुपए बढ़ी है। यानि गहलोत ने मात्र एक साल के अंदर अपनी पूंजी में 100 फीसदी का इजाफा किया है।

    मंगल प्रभात लोढ़ा की पूंजी बढ़ी

    लोढ़ा ग्रुप: मंगल प्रभात लोढ़ा

    वर्तमान में लोढ़ा ग्रुप के फाउंडर मंगल प्रभात लोढ़ा की संपत्ति कुल 24,000 करोड़ रुपए है। वहीं साल 2016 में लोढ़ा के पास मात्र 13,000 करोड़ रुपए थे। ऐसे में एक साल के अंदर 11,000 करोड़ रुपए लाभ कमाते हुए मंगल प्रभात ने अपनी संपत्ति में 82.9 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज कराई है।

    गौतम अडानी की पूंजी बढ़ी

    अडानी ग्रुप: गौतम अडानी

    अडानी ग्रुप के फाउंडर व चेयरमैन गौतम अडानी की कुल संपत्ति फिलहाल 71,000 करोड़ रुपए है। वहीं वर्ष 2016 में अडानी 40,000 करोड़ रुपए के मालिक थे। अडानी ने एक साल के अंदर अपनी पूंजी में 30,400 करोड़ रुपए जोड़ते हुए कुल संपत्ति में 74.6 फीसदी का इजाफा किया है।

    अनिल अग्रवाल की पूंजी बढ़ी

    वेदांता रिसोर्सेज: अनिल अग्रवाल

    वेदांता रिसोर्सेज के फाउंडर व चेयरमैन अनिल अग्रवाल के पास कुल संपत्ति 20,000 करोड़ रुपए की संपत्ति है। जब एक साल पहले अनिल अग्रवाल मात्र 12,000 करोड़ रुपए के मालिक थे। इस प्रकार अग्रवाल ने 8,600 करोड़ रुपए जोड़ते हुए अपनी कुल पूंजी में 72 फीसदी का इजाफा किया है।

    हसमुख छुढगर की पूंजी बढ़ी

    इंटास फार्मास्‍युटिकल्‍स: हसमुख छुढगर

    इंटास फार्मास्‍युटिकल्‍स के संस्थापक और बिजनेसमैन हसमुख छुढगर के पास वर्तमान में 19,000 करोड़ रुपए की संपत्ति है। जब कि आंकड़ें बतातें हैं कि साल 2016 में उनकी संपत्ति 11,000 करोड़ रूपए थी। ऐसे में हसमुख छुढगर ने एक साल के अंदर अपनी पूंजी 69.4 फीसदी बढ़ा ली है।