शुक्रवार, जनवरी 17, 2020

दुष्कर्म की घटनाओं पर प्रधानमंत्री चुप क्यों? : राहुल गांधी

Must Read

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को दिए निर्देश, संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर 3 महीने में ले फैसला

देश के प्रत्येक तहसील में एक केंद्रीय विद्यालय खोलने और प्राइमरी स्कूल के पाठ्यक्रम में भारतीय संविधान को शामिल...

पाकिस्तान : कट्टरपंथी संगठन के 86 सदस्यों को आतंकवादी रोधी अदालत ने सुनाई 55-55 साल कैद की सजा

पाकिस्तान के रावलपिंडी में एक आतंकवाद रोधी अदालत ने कट्टरपंथी संगठन तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) के 86 सदस्यों व समर्थकों...

राजकोट वनडे : भारतीय बल्लेबाजों की दमदार वापसी, आस्ट्रेलिया को दिया 341 रनों का लक्ष्य

मुंबई में मिली बुरी हार से आहत भारतीय बल्लेबाजों ने शुक्रवार को यहां सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले...

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां सोमवार को सवाल उठाया कि देश में दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुप क्यों हैं? राहुल ने हजारीबाग जिले के बड़कागांव में एक रैली संबोधित करते हुए कहा, “भारत दुनिया का ‘रेप कैपिटल’ बन गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुष्कर्म की घटनाओं पर चुप्पी साधे हुए हैं। उत्तरप्रदेश में उनके विधायक पर दुष्कर्म का आरोप है, वह चुप्पी साधे हुए हैं। देश में महिलाओं को जिंदा जलाया जाता है, गोली मारी जाती है, दुष्कर्म किया जाता है, मोदी चुप्पी साधे रहते हैं।”

बड़कागांव में दो वर्ष पहले भूमि अधिग्रहण के मामले में राज्य सरकार के विरुद्ध प्रदर्शन के दौरान गोलीबारी में पांच किसानों की मौत हो गई थी।

राहुल ने कहा, “महिलाओं और किसानों को गोली का निशाना बनाया जाता है। महिलाएं बिना डर के अपने घर से बाहर नहीं निकल सकती हैं।”

उन्होंने कहा, “मोदी किसानों की रक्षा करने का दावा करते हैं, जबकि किसानों की भूमि छीनी जा रही है। जब किसान प्रदर्शन करते हैं, तो उन्हें मार दिया जाता है। हम किसानों की जमीन की सुरक्षा के लिए भूमि अधिग्रहण अधिनियम लेकर आए थे। नियम के अनुसार, किसानों की जमीन को पंचायत की अनुमति के बिना नहीं लिया जा सकता था, लेकिन मोदी ने इसका विरोध किया। मोदी ने अपने मुख्यमंत्री को इसे लागू नहीं करने के लिए कहा।”

उन्होंने कहा, “मोदी भ्रष्टाचार के विरुद्ध लड़ने का दावा करते हैं, लेकिन उनके झारखंड के मुख्यमंत्री सबसे भ्रष्ट राजनेताओं में से एक हैं।”

कांग्रेस नेता ने नोटबंदी और जीएसटी जैसे आर्थिक मुद्दों को लेकर भी प्रधानमंत्री पर निशाना साधा।

राहुल ने कहा, “मोदी का चेहरा टीवी पर बार-बार दिखाया जाता है, क्योंकि आपके पैसे अडाणी और अंबानी को दे दिए जाते हैं और वे ही ये चैनल चलवाते हैं। क्या आपने कभी मोदी को किसानों और गरीब लोगों को गले लगाते देखा है? लेकिन आप उन्हें उद्योगपतियों को गले लगाते देखेंगे। सरकार केवल 10 से 15 उद्योगपतियों के लिए चल रही है। सभी सार्वजनिक उपक्रम इन कंपनियों को सौंपा जा रहा है। केंद्र सरकार सरकारी कर्मचारियों की पेंशन खत्म कर रही है।”

उन्होंने कहा, “आज पूरे देश में नफरत का माहौल है, जबकि जितनी नफरत फैलेगी, उतनी ही बेरोजगारी बढ़ेगी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने देश की अर्थव्यवस्था को गड्ढे में धकेल दिया है।”

उन्होंने कहा, “झारखंड गरीब नहीं है, झारखंड की जनता गरीब नहीं है। झारखंड में जल, जंगल, जमीन सबकुछ है।”

किसानों के कर्ज माफ करने और पिछड़ों के लिए आरक्षण देने का वादा करते हुए राहुल ने कहा, “जिस तरह छत्तीसगढ़ में धान के प्रति कुंटल 2500 रुपये मिल रहे हैं, उसी तरह झारखंड के किसानों को भी धान का उचित मूल्य मिलेगा। हम उनका दो लाख रुपये तक का कर्ज माफ करेंगे। जिसकी जमीन छीनी गई है, उनको मुआवजे के साथ जमीन वापस दिलाएंगे।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को दिए निर्देश, संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर 3 महीने में ले फैसला

देश के प्रत्येक तहसील में एक केंद्रीय विद्यालय खोलने और प्राइमरी स्कूल के पाठ्यक्रम में भारतीय संविधान को शामिल...

पाकिस्तान : कट्टरपंथी संगठन के 86 सदस्यों को आतंकवादी रोधी अदालत ने सुनाई 55-55 साल कैद की सजा

पाकिस्तान के रावलपिंडी में एक आतंकवाद रोधी अदालत ने कट्टरपंथी संगठन तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) के 86 सदस्यों व समर्थकों को कुल मिलाकर 4738 साल...

राजकोट वनडे : भारतीय बल्लेबाजों की दमदार वापसी, आस्ट्रेलिया को दिया 341 रनों का लक्ष्य

मुंबई में मिली बुरी हार से आहत भारतीय बल्लेबाजों ने शुक्रवार को यहां सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे वनडे मैच...

छत्तीसगढ़ : बस्तर में कुपोषण के खिलाफ ‘गुड़’ को हथियार बनाएगी भूपेश सरकार

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कुपोषण को नक्सलवाद से बड़ी चुनौती मानते हैं और यही कारण है कि इसके खात्मे के लिए कई अभियान...

सुप्रीम कोेर्ट ने महात्मा गांधी को भारत रत्न दिए जाने की याचिका खारिज की

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को महात्मा गांधी को भारतरत्न से सम्मानित करने की मांग वाली जनहित याचिका पर केंद्र को कोई भी निर्देश जारी...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -