Tue. Mar 5th, 2024
    दिल्ली: राष्ट्रीय अभिलेखागार में पुस्तक मेला और प्रदर्शनी-सह-बिक्री का शुभारंभ

    दिल्ली में जनपथ स्थित राष्ट्रीय अभिलेखागार (एनएआई) की विरासत इमारत में मंगलवार को पुस्तक मेले और राष्ट्रीय अभिलेखागार के प्रकाशनों की विशिष्ट प्रदर्शनी-सह-बिक्री का शुभारंभ हुआ। इस आयोजन का उद्घाटन करते हुए अभिलेख महानिदेशक अरुण सिंघल ने बच्चों में किताबें पढ़ने की आदत विकसित करने की आवश्यकता पर जोर दिया।

    सिंघल ने कहा कि किताबें ज्ञान और संस्कृति का भंडार हैं। वे हमें अतीत के बारे में जानने और वर्तमान को बेहतर बनाने में मदद करती हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों में किताबें पढ़ने की आदत विकसित करने के लिए हमें उन्हें किताबों से परिचित कराना चाहिए। उन्हें किताबों के महत्व के बारे में बताना चाहिए और उन्हें किताबें पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।

    इस पुस्तक मेले में अनेक प्रमुख प्रकाशक और पुस्तक वितरक अपने नवीनतम प्रकाशनों को प्रदर्शित कर रहे हैं। पुस्तक मेले में विभिन्न विषयों की पुस्तकों का विस्तृत संग्रह उपलब्ध है। इसमें साहित्य, इतिहास, विज्ञान, धर्म, दर्शन, मनोविज्ञान, आदि विषयों की पुस्तकें शामिल हैं।

    पुस्तक मेले के साथ ही साथ एनएआई ने राष्ट्रीय अभिलेखागार के प्रकाशनों की एक विशिष्ट प्रदर्शनी-सह-बिक्री भी आरंभ की है। इस प्रदर्शनी-सह-बिक्री में एनएआई द्वारा प्रकाशित पुस्तकों, पत्रिकाओं और अन्य प्रकाशनों को प्रदर्शित किया जा रहा है। इन प्रकाशनों में भारतीय इतिहास, संस्कृति, कला और साहित्य से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध है।

    प्रदर्शनी-सह-बिक्री में आकर्षक छूट से साथ प्रस्तुत किए जा रहे कीमत वाले प्रकाशनों के अलावा, एनएआई के बिना-कीमत वाले प्रकाशनों को भी प्रदर्शित किया जा रहा है। ये प्रकाशन विचारशील पाठकों के लिए निःशुल्क उपलब्ध हैं।

    पुस्तक मेला और एनएआई के प्रकाशनों की प्रदर्शनी-सह-बिक्री 5 से 15 दिसंबर 2023 तक प्रतिदिन पूर्वाह्न 11.00 बजे से शाम 5.30 बजे तक खुली रहेगी।

    यह पुस्तक मेला और प्रदर्शनी-सह-बिक्री दिल्ली के पाठकों के लिए एक महत्वपूर्ण अवसर है। इस मेले में वे विभिन्न प्रकाशकों की नवीनतम पुस्तकों को देख सकते हैं और उनमें से अपनी पसंद की पुस्तकें खरीद सकते हैं। इसके अलावा, वे एनएआई द्वारा प्रकाशित पुस्तकों और प्रकाशनों से भी परिचित हो सकते हैं।

    यह मेला बच्चों में किताबें पढ़ने की आदत विकसित करने में भी मददगार होगा। इस मेले में उपलब्ध पुस्तकों से बच्चे विभिन्न विषयों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और अपनी रुचियों के अनुसार पुस्तकें चुन सकते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *