दा इंडियन वायर » समाचार » दिल्ली के मुंडका की एक इमारत में भीषण आग लगने से 27 लोगों ने गवाई जान; स्थानीय लोग इमारत में फंसे लोगों की मदद के लिए आये सामने
समाचार

दिल्ली के मुंडका की एक इमारत में भीषण आग लगने से 27 लोगों ने गवाई जान; स्थानीय लोग इमारत में फंसे लोगों की मदद के लिए आये सामने

दिल्ली के मुंडका की एक इमारत में आग लगने से २७ लोगो ने गवाई जान; स्थानीय लोगो ने बचाई कई जानें

दिल्ली के मुंडका में शुक्रवार शाम करीब 4.45 बजे एक कार्यालय की इमारत में भीषण आग लगने से 27 लोगो की मृत्यु हो गयी। 

शनिवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया घटनास्थल बचाव अभियान का जायजा लेने पहुंचे।

सीएम ने मृतकों के परिजनों को 10 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार ने घटना की मजिस्ट्रियल जांच का आदेश दे दिया है।  

दिल्ली पुलिस ने  फैक्ट्री के मालिक हरीश गोयल और वरुण गोयल हिरासत में ले लिया है।  इमारत के मालिक के रूप में  जिनकी पहचान मनीष लकड़ा के रूप में  हुई है वह फिलहाल फरार हैं।

आग लगते ही स्थानीय पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और अंदर फंसे लोगों को बचाने के लिए कार्य शुरू कर दिया।  पुलिस को खिड़कियां तोड़नी पड़ी। जो घायल हुए उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

स्थिति को नियंत्रित करने के लिए 30 से अधिक दमकल गाड़िया मौके पर पहुंची। पीड़ितों को तत्काल चिकित्सा सहायता प्रदान करने के लिए  एम्बुलेंस भी मौके पर पहुंची।  एनडीआरएफ की टीम भी वह पहुंची ।

स्थानीय लोगो का कहना है कि पुलिस या एम्बुलेंस आने से पहले आस पास के इलाके के लोगो ने इमारत कि पहली व दूसरी मंज़िल में फसे लोगो को बचाने में जी-जान लगा दी।  लोग अपनी जान बचने के लिए रस्सी, सीढ़ी व क्रेन की सहायता से नीचे आये।  

शुरुआती पूछताछ में पता चला कि चार मंजिला इमारत कमर्शियल स्पेस के तौर पर किया जा रहा था।

दिल्ली दमकल सेवा के प्रमुख अतुल गर्ग ने शनिवार को कहा कि मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास भीषण आग में जलने वाली चार मंजिला इमारत के पास एमसीडी से कोई फायर एनओसी और मंजूरी नहीं थी। “ऐसा लगता है कि पूरी इमारत अवैध थी,” गर्ग ने कहा। 

इमारत की पहली मंजिल पर आग लगी थी, स्थानीय लोगो का मानना है कि आग शार्ट सर्किट से हुई।  इमारत कि पहली मज़िल में सीसीटीवी कैमरे और राउटर बनाने वाली कंपनी का ऑफिस था। 

कई लोग अपने परिजनों कि तलाश में हस्पातलो के चक्कर लगा रहे है।  डॉक्टरों का कहना है कि शव इतनी बुरी तरीके से जले है कि पहचान करना मुश्किल है कि ये शव औरत का है या मर्द का।  

एक अधिकारी के हवाले से पता चला कि दिल्ली पुलिस ने मुंडका में भीषण आग की घटना में FIR दर्ज कर ली है।  

पुलिस उपायुक्त  समीर शर्मा ने कहा कि FIR धारा 304 (गैर इरादतन हत्या के लिए सजा), 308 (गैर इरादतन हत्या का प्रयास), 120 (कैद के साथ दंडनीय अपराध को छुपाने की साजिश) और भारतीय दंड संहिता की धरा 34 (सामान्य इरादे को आगे बढ़ाने में कई व्यक्तियों द्वारा किए गए कार्य) के तहत दर्ज की गई है।

बेहद दुखी’: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने ट्वीट कर दिल्ली में हुए हादसे पर शोक प्रकट किया।  उन्होंने कहा: “दिल्ली में भीषण आग के कारण लोगों की जान जाने से बेहद दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।” (हिंदी अनुवाद)

प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर जानकारी दी कि आग में जान गंवाने वालों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये दिए जाएंगे व घायलों को 50-50 हजार रुपये दिए जाएंगे।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी ट्वीट कर कहा, “दिल्ली में मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास एक इमारत में हुए भीषण आग हादसे से व्यथित हूं। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।” (हिंदी अनुवाद)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लिखा, “इस दुखद घटना के बारे में जानकर स्तब्ध और दुखी हूं। मैं लगातार अधिकारियों के संपर्क में हूं। हमारे बहादुर दमकलकर्मी आग पर काबू पाने और लोगों की जान बचाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। भगवान सभी का भला करें।” (हिंदी अनुवाद)

“मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास दिल्ली में लगी आग में लोगों की दर्दनाक मौत से आहत हूं। शोक संतप्त परिवारों के प्रति हार्दिक संवेदना और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।” राहुल गाँधी ने ट्वीट कर कहा।  (हिंदी अनुवाद)

 

 

 

 

About the author

Surubhi Sharma

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Want to work with us? Looking to share some feedback or suggestion? Have a business opportunity to discuss?

You can reach out to us at [email protected]