दा इंडियन वायर » समाचार » दिल्ली सरकार का फ़ैसला: आज से लगेगा नाईट कर्फ्यू
समाचार

दिल्ली सरकार का फ़ैसला: आज से लगेगा नाईट कर्फ्यू

राजधानी दिल्ली (Delhi) में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए अरविन्द केजरीवाल (Arvind Kejriwal) सरकार ने नाईट कर्फ्यू (Night Curfew) का ऐलान किया है। बढ़ते संक्रमण के मद्देनज़र दिल्ली में मंगलवार रात से कर्फ्यू लगेगा। आगामी 30 अप्रैल तक लगाए इस कर्फ्यू के तहत रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक लोगों को अपने घरों से निकलने की इजाज़त नहीं होगी। सोमवार को राजधानी में 3,548 नए मामले आए।

पिछले 24 घंटे में 15 मरीजों की मौत भी दर्ज़ की गयी। संक्रमण बढ़ने के कारण सक्रिय मरीजों की संख्या 14,500 से अधिक हो गई है। इस वजह से अस्पतालों में मरीजों का दबाव बढ़ रहा है। साथ ही इस दौरान 2,936 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज हुए। दिल्ली में कुल मामलों की संख्या 6,79,962 हो गई। अभी तक 11,096 लोगों की मौत हो चुकी हैं।

लॉकडाउन का नहीं है कोई विचार

इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा था कि दिल्ली में कोरोना के संक्रमण की चौथी लहर चल रही है, लेकिन लॉकडाउन लगाने पर अभी विचार नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा था कि हम स्थिति पर करीबी नजर रख रहे हैं और इस तरह का निर्णय उचित सार्वजनिक परामर्श के बाद ही लिया जाएगा। मुख्य सचिव की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि दिल्ली के लोगों की सुरक्षा को लेकर हुए यह कदम उठाया गया है क्योंकि दिल्ली में कोरोना के मामलों में काफी उछाल आया है।

नाईट कर्फ्यू की अहम बातें

जिनको नाईट कर्फ्यू से छूट दी गयी है उन्हें कई श्रेणियों में बाँटा गया है। नाईट कर्फ्यू के समय ज़रूरी सेवाओं से जुड़े लोगों के निकलने पर कोई प्रतिबन्ध नहीं होगा। अधिकारियों और अन्य कर्मचारियों को अपना पहचान पत्र (आई-कार्ड) दिखाना होगा। अन्य लोगों को ई-पास लेकर बहार निकलने की अनुमति होगी। वैक्सीन लगवाने जा रहे लोगों को ई-पास लेकर बहार निकलने की इजाज़त होगी।

रात में ही सब्ज़ी, दूध, दवा, फल, राशन व अन्य सामान लेने जाने वाले विक्रेताओं को भी पास लेकर निकलने की अनुमति होगी। टीवी व समाचार पत्र में काम करने वाले पत्रकारों को भी पास लेकर निकलने की अनुमति होगी। गंभीर रूप से बीमार और गर्भवती महिलाओं को भी छूट दी जायेगी। इंट्रा-स्टेट और इंटर-स्टेट मूवमेंट और मालवाहक ट्रांसपोर्टेशन भी जारी रहेगा।

पब्लिक ट्रांसपोर्ट जैसे बस, दिल्ली मेट्रो, ऑटो, टैक्सी आदि को तय समय के बाद उन्हीं लोगों को लाने और ले जाने की इजाजत होगी, जिनको नाइट कर्फ्यू के दौरान के दौरान छूट दी गई है।

About the author

आदित्य सिंह

दिल्ली विश्वविद्यालय से इतिहास का छात्र। खासतौर पर इतिहास, साहित्य और राजनीति में रुचि।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!