दा इंडियन वायर » समाचार » दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामले देखते हुए लागू हुआ वीकेंड कर्फ्यू
समाचार

दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामले देखते हुए लागू हुआ वीकेंड कर्फ्यू

राजधानी में कोविड-19 महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए वीकेंड कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया है। मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्‍यपाल अनिल बैजल से मुलाकात के बाद इसकी घोषणा की। शनिवार और रविवार को जरूरी सेवाओं को छोड़कर बाकी आवाजाही पर रोक रहेगी।

सीएम ने सभी से मास्‍क पहनने और सोशल डिस्‍टेंसिंग के नियमों का पालन करने की अपील की। ये वीकेंड कर्फ्यू शुक्रवार रात 10 बजे शुरू होकर सोमवार सुबह 6 बजे तक जारी रहेगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इन नई पाबंदियों का ऐलान किया है। ऐसे में अब घर से निकलने के लिए ई-पास की जरूरत एक बार फिर आन पड़ी है।

जरूरत के दौरान दिल्ली सरकार की वेबसाइट www.delhi.gov.in पर जाकर पास के लिए अप्लाई किया जा सकेगा। वहीं जिला प्रशासन भी ई-पास जारी करेगा। जहां से अपनी जरूरत के हिसाब से ई-पास बनवाया जा सकता है। बता दें कि सभी जिलाधिकारी और डीसीपी को इन पाबंदियों को सख्ती से लागू कराने का आदेश दिया गया है। जो भी इन आदेशों का पालन नहीं करता है, उनके खिलाफ डीडीएमए एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।

क्या खुला-क्या बंद?

मॉल, जिम, स्‍पॉ और ऑडिटोरियम बंद कर दिए गए हैं। साप्‍ताहिक बाजार हर इलाके में एक ही लगेगा। साप्ताहिक बाजार में ज्‍यादा भीड़ ना हो इसके लिए खास इंतजाम किए जा रहे हैं। सिनेमा हॉल्‍स को 30% कैपेसिटी के साथ ऑपरेट करने की छूट दी गई है। रेस्‍तरां में बैठकर खाना नहीं खा सकेंगे, होम डिलिवरी हो सकेगी।

जरूरी कामों के लिए बाहर निकलने की इजाजत होगी। इसके लिए कर्फ्यू पास जारी किए जाएंगे। शादी, अंतिम संस्‍कार जैसे कामों के लिए भी कर्फ्यू पास दिया जाएगा। हां इन सभी में लोगों को जो तय लिमिट है, वह जारी रहेगी।

एक म्युनिसिपल ज़ोन में प्रतिदिन केवल एक साप्ताहिक बाज़ार सख्त एसओपी के पालन के साथ लगाने की इजाज़त होगी। बाज़ार कहां लगेगा इसका फैसला म्युनिसिपल बॉडी के जोनल डिप्टी कमिश्नर करेंगे।

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली मेट्रो, बस, ऑटो, टैक्सी जैसी सार्वजनिक परिवहन सुविधाएं अपने तय समय के हिसाब से चल सकेंगी। लेकिन उनमें केवल उन्हें ही आने जाने की अनुमति होगी जिन्हें नाइट कर्फ्यू के दौरान छूट मिली हो। वहीं वीकेंड कर्फ्यू के दौरान भी अधिकतम 50 लोगों की संख्या के साथ शादी समारोह और अधिकतम 20 लोगों की संख्या के साथ अंतिम संस्कार कार्यक्रम में अनुमति होगी।

दिल्ली में अस्पतालों की स्तिथि

कोविड-19 के बढ़ते केसेज ने दिल्‍ली में हेल्‍थ इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर की कमर तोड़ दी है। हालात देखते हुए 14 बड़े निजी अस्‍पतालों में कोविड के लिए खासतौर पर बेड्स रिजर्व किए गए हैं। 15 होटल्‍स को कोविड केयर सेंटर बना दिया गया है।

About the author

आदित्य सिंह

दिल्ली विश्वविद्यालय से इतिहास का छात्र। खासतौर पर इतिहास, साहित्य और राजनीति में रुचि।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!