Sun. Jul 14th, 2024
    अरविंद केजरीवाल-अनिल बैजल

    दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के बाद वहां प्रशासनिक संकट बढ गया है। नौकरशाहों के विरोध-प्रदर्शन के बाद केजरीवाल व उनके मंत्रियों ने उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात की। इस दौरान उपराज्यपाल ने नौकरशाहों के विरोध पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। इससे पहले इस मामले में सीसीटीवी फुटेज की जांच के लिए दिल्ली पुलिस की एक टीम मुख्यमंत्री आवास पहुंची और फुटेज से संबंधित कार्रवाई की।

    उपराज्यपाल से मुलाकात के दौरान केजरीवाल ने कहा कि मुख्य सचिव से कथित मारपीट के बाद अधिकारी पिछले तीन दिनों से बैठक में शामिल नहीं हो रहे है। ट्विटर पर उन्होंने कहा कि राज्य में शासन प्रभावित हो रहा है क्योंकि अधिकारी अपने काम को छोड़ रहे है।

    दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उपराज्यपाल ने आश्वासन दिया है कि वे हडताल करने वाले नौकरशाहों से बात करेंगे। जिससे सार्वजनिक सेवा बंद नही होगी। सीएम व अन्य मंत्रियों ने उपराज्यपाल को उन नौकरशाहों की सूची सौंपी है जो काम नहीं कर रहे और बैठक में शामिल नहीं हो रहे है। अधिकारी उनके फोन भी रिसीव नहीं कर रहे है।

    बैठक के बाद बैजल ने ट्वीट करके कहा कि उन्होंने केजरीवाल व उनके मंत्रियों से सरकारी कर्मचारियों के बीच अविश्वास को दूर करने के लिए जरूरी कदम उठाने को कहा। उन्होंने इस घटना को ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ कहने के बाद बताया कि लोकतांत्रिक समाज में हिंसा का कोई स्थान नहीं होता है।

    वहीं आप विधायक अमानतुल्लाह खान और प्रकाश जारवाल की जमानत याचिकाओं को शुक्रवार को दिल्ली की एक अदालत ने खारिज कर दिया। आप के विधायक संजीव बाल्यान ने कहा कि मुख्य सचिव आम आदमी के लिए काम ही नहीं कर रहे है इसलिए उन्हें पीटा जाना चाहिए।

    सीसीटीवी फुटेज नहीं कर रहे काम

    दिल्ली पुलिस ने सीएम हाउस पर सीसीटीवी फुटेज के बारे मे कहा कि घटना के समय वहां पर कैमरे नहीं लगाए गए थे। इस घटना को पुलिस संदिग्ध नजर से देख रही है। अधिकारियों ने यह भी कहा कि घर में 21 सीसीटीवी कैमरों में से 7 काम नहीं कर रहे थे। कैमरे का समय भी पीछा चल रहा था। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) हरेन्द्र कुमार सिंह ने कहा कि कैमरों की हार्ड डिस्कों को जब्त कर लिया गया है।

    जस्टिस लोया केस में शाह से पूछताछ की हिम्मत करे पुलिस

    केजरीवाल ने अपने आवास के बाहर संवाददाताओं से कहा कि वे खुश है कि पुलिस जांच कर रही है लेकिन जस्टिस लोया केस मामले मे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से भी पूछताछ करने की हिम्मत होनी चाहिए।

    दिल्ली पुलिस ने गुरूवार को केजरीवाल के मुख्य सलाहकार वीके जैन के बयान को शहर के एक अदालत में पेश किया जिसमें उन्होंने बताया कि खान और जारवाल मुख्य सचिव के ऊपप शारीरिक रूप से हमला करते है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *