Tue. Jun 18th, 2024
    DIGVIJAY SINGH

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने जैश-ए-महोम्मद के प्रमुख मसूद अजहर के संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकी घोषित करने पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी दोस्ती को दिखा रहे हैं तो मसूद अजहर वैश्विक आतंकी घोषित से क्या होगा।

    भारत के लिए यह एक बड़ी राजनीतिक जीत हैं, मसूद अजहर को बुधवार को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया गया था। चीन, जो चार बार मसूद अजहर को ब्लैकलिस्ट करने में रूकावट ड़ाल चुका था, ने भी आखिरकार अपनी आपत्तियां उठाना बंद कर दी और कहा,” सावधानि पूर्वक संशोधित सामग्री का अध्ययन करने के बाद कोई आपत्ति नही हैं।”

    सिंह ने भोपाल में कहा,”यह घोषणा से कैसे मदद मिलेगी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की मोदीजी के साथ अपनी दोस्ती निभा रहे हैं।” मैं कहना चाहूंगा, दाऊद इब्राहिम, मसूद अजहर और हाफिज सईद को तुरंत भारत को सौंप देना चाहिए।

    कांग्रेस ने मसूद अजहर के वैश्विक आतंकी घोषणा का स्वागत किया हैं और कहा सरकार को अजहर पर इनाम घोषणा के लिए जोर देना चाहिए, जैसा कि लशकर-ए-तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद के खिलाफ संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन ने किया था।

    पार्टी ने कहा, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का निर्णय पहला कदम था और पाकिस्तान को अपनी धरती पर चल रहे आतंकी ढांचे को खत्म करने के लिए मजबूर होना चाहिए।

    मसूद अजहर के जैश का हाथ फरवरी के पुलवामा हमले में था जिसमें 40 सीआरपीएफ के जवान शहिद हो गए थे। हालांकि, संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव में पुलवामा हमले का कोई संदर्भ नही दिया गया हैं।
    पिछले महीने, इमरान खान ने कहा था कि वह भारत के साथ पुन: शांति वर्ता का मौका देखते हैं, अगर पीएम मोदी की भाजपा राष्ट्रीय चुनाव में जीतती हैं। इसके बाद प्रधानमंत्री और सत्ताधारी पार्टी पर विपक्ष ने पाकिस्तान की भाषा बोलने का आरोप लगाया था।
    इमरान खान ने कहा था,” अगर भारत में अगली सरकार कांग्रेस नेतृत्व की होती हैं, तो यह कश्मीर पर पाकिस्तान का समझौता करने में कठिनाई हो सकती हैं, यदि भाजपा जीतती हैं,जो राइट विंग पार्टी हैं तो कश्मीर पर कुछ समझौते हो सकते हैं।”

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *