दा इंडियन वायर » स्वास्थ्य » दांत दर्द के लिए घरेलू उपचार और नुस्खे
स्वास्थ्य

दांत दर्द के लिए घरेलू उपचार और नुस्खे

दांत के दर्द के लिए घरेलू उपाय

दांत का दर्द दन्त चिकित्सा की एक आम समस्या है और अक्सर ये अत्यंत दर्दनाक और दुर्बल हो जाती है। दांत की पीड़ा असहनीय इसलिए बन जाती है क्योंकि इसके कारण हम न ढंग से खा पाते हैं और न ही इस दर्द को भुला पाते हैं।

दांत के दर्द के कई कारण हो सकते हैं जैसे कि दांत में किसी प्रकार का संक्रमण। इस संक्रमण के कारण मसूड़ों में सूजन आ जाती है और दांत के आस पास का भाग लाल पड़ जाता है। इस दर्द का यदि उचित इलाज न किया जाए तो इसके कारण आपको अपना दांत भी निकलवाना पड़ सकता है

दांत के दर्द का हमारी उम्र से कोई सम्बन्ध नहीं होता है। ये दर्द कभी भी और किसी को भी हो सकता है। अक्सर ऐसा होता है कि दांत का ये दर्द हमें तब अधिक सताता है जब हम दन्त-चिकित्सक के पास तुरंत नहीं जा पाते हैं। ऐसी स्थिति में इस पीड़ा को झेलना अत्यधिक मुश्किल कार्य हो जाता है और इसके लिए हमें घरेलू उपायों का ही सहारा लेना पड़ता है जो अधिकतर उपयोगी साबित होते हैं

आइये आपको उन घरेलू उपायों के बारे में बताते हैं जिनसे हमारे दांत के दर्द से निजात पाया जा सकता है

1. टी बैग

टी बैग में मौजूद टेनिन सूजन को कम करते हैं और दर्द से राहत दिलाते हैं

सामग्री:
  • 1 टी बैग
  • पानी
कैसे इस्तेमाल करें?
  • टी बैग को पानी से गीला कर लें
  • इस टी बैग को अपने पीड़ित दांत पर लगायें

यदि आपको अत्यधिक ठन्डे से दांतों में परेशानी नहीं होती है तो आप इस टी बैग को बर्फ में भी रख सकते हैं। आप इसे अपनी ज़रुरत के अनुसार दिन में एक से दो बार लगा सकते हैं।

2. ऑरेगैनो ओइल

ऑरेगैनो ओइल में एनलजेसिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो दर्द और सूजन को कम करने में सहायक होते हैं। इसके अतिरिक्त, यह दर्द पैदा करने वाले बैक्टीरिया को भी ख़त्म कर देता है। इसमें मौजूद कार्वक्रोल इस गुण के लिए ज़िम्मेदार होता है।

सामग्री:
  • ऑरेगैनो ओइल
  • क्यू टिप
कैसे इस्तेमाल करें?
  • क्यू टिप की सहायता से ऑरेगैनो ओइल सीधे अपने दांत पर लगा लें

यदि दर्द कम न हो तो आप इसे कुछ घंटों बाद दोबारा लगा सकते हैं। 

3. ओलिव ओइल

इसमें मौजूद फेनोलिक कंपाउंड्स के कारण इसके अन्दर एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। ये दांत में सूजन को कम करके दर्द से राहत देता है।

सामग्री:
  • वर्जिन ओलिव ओइल
  • रुई
कैसे इस्तेमाल करें?
  • रुई को तेल में डालें और पीड़ित दांत पर लगा लें।

इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहरायें ताकि आपको दर्द से राहत मिल जाये। 

इसमें मौजूद फेनोलिक कंपाउंड्स के कारण इसके अन्दर एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। ये दांत में सूजन को कम करके दर्द से राहत देता है।

4. नमक का गर्म पानी

गर्म पानी आपके दांत की सूजन को कम करता है और मुँह में मौजूद बैक्टीरिया को मार देता है

सामग्री:
  • 1 गिलास गर्म पानी
  • 1 चम्मच नमक
कैसे इस्तेमाल करें?
  • गर्म पानी में नमक डाल लें और इससे कुल्ला करें।

इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहरायें। 

5. दालचीनी

दालचीनी और शहद अत्यधिक पीड़ा से आपको छुटकारा दिला सकते हैं। दालचीनी में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीमाइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं। शहद में एंटीमाइक्रोबियल और एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं और ये दांत में दर्द से राहत दिलाता है।

सामग्री:
  • 1 चम्मच पीसी हुई दालचीनी
  • 5 चम्मच शहद
कैसे इस्तेमाल करें?
  • पीसी हुई दालचीनी को शहद के साथ मिला लें।
  • इस चिपचिपे पेस्ट को सीधा अपने दांत पर लगायें

इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहरायें या फिर जब तक आपका दर्द ठीक न हो जाये। 

6. अमरुद की पत्तियां

ये आपके दर्द को कम करके सूजन को घटाता है। यदि आपको अमरुद की पत्तियां न मिलें तो आप ताज़े पालक का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

सामग्री:
  • 4-5 अमरुद की पत्तियां
  • 1/2-1 चम्मच नमक
  • पानी
कैसे इस्तेमाल करें?
  • पत्तियों को पानी में उबाल लें। पानी निकाल लें और अलग रख दें।
  • जब पानी गर्म हो तो उसमें नमक डालें और इससे कुल्ला करें।
  • कुछ अमरुद की पत्तियों को चबा लें ताकि दर्द में राहत मिले

इस प्रक्रिया को दिन में दो बार करें। 

7. लौंग का तेल

लौंग को पुराने समय से ही दांत के दर्द के निवारण के लिए उपयोग किया जाता रहा है। इसमें मौजूद यूगेनोल आपके दर्द को कुछ देर में ही ठीक कर देता है। 

सामग्री:
  • 1-2 बूँद लौंग का तेल
कैसे इस्तेमाल करें?
  • जिस दांत में दर्द हो उसमें इस तेल को लगा लें। 
  • कोशिश करें कि आप इसे चाटें न। 

इस तेल को आप दिन में तीन से चार बार लगा सकते हैं। 

ध्यान रखें

लौंग में थोडा तीखापन आपको महसूस हो सकता है तो उसके लिए तैयार रहे क्योंकि यह लौंग का एक गुण होता है। 

8. बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा में चमत्कारी गुण पाए जाते हैं। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जिनके कारण ये सूजन को कम कर देता है। इसके अलावा इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो दांतों को संक्रमण से बचाते हैं।  

सामग्री:
  • बेकिंग सोडा
  • पानी
  • रुई’
कैसे इस्तेमाल करें?
  • रुई को पानी से गीला करके उस पर बेकिंग सोडा लगा लें। 
  • इस रुई को पीड़ित दांत पर लगा लें।

इसके अतिरिक्त आप बेकिंग सोडा को गर्म पानी में मिलाकर कुल्ला भी कर सकते हैं। इसे अपने दांत पर 2-3 बार लगायें जब तक आपका दर्द ठीक न हो जाये। 

9. अदरक

यह उपाय बहुत ही गुणकारी होता है और दर्द से तुरंत राहत दिलाता है। अदरक में किसी भी प्रकार की सूजन और दर्द कम करने की क्षमता होती है। लाल मिर्च में कैप्सैसिन होता है जो दर्द निरोधक होता है।

सामग्री:
  • अदरक की गाँठ का छोटा टुकड़ा
  • 1 चम्मच लाल मिर्च
  • पानी
  • रुई’
कैसे इस्तेमाल करें?
  • अदरक को पीस कर उसमें लाल मिर्च और पानी मिला कर पेस्ट तैयार कर लें। 
  • रुई को इस पेस्ट में डालें ताकि वह पूरी तरह भीग जाये।
  • इसे कुछ मिनट के लिए लगा रहने दें

इस प्रक्रिया को ज़रुरत के अनुसार दोहराएं

10. प्याज

प्याज न सिर्फ दर्द कम करने की क्षमता रखता है अपितु मुँह में मौजूद कीटाडुओं को भी मार देता है।

सामग्री:
  • कच्चे प्याज का छोटा टुकड़ा
कैसे इस्तेमाल करें?
  • कच्चे प्याज को पीड़ित दांत पर लगायें। 
  • इसे कुछ मिनट के लिए लगा रहने दें

इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराएं

11. लहसुन की कली

लहसुन में ऐलीसिन पाया जाता है जिसमें एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं। ये दर्द का कारण बनने वाले संक्रमण को खत्म कर देता है। दांत के दर्द के लिए आप लहसुन खाली पेट भी खा सकते हैं।

सामग्री:
  • लहसुन की एक कली
  • 1 चम्मच सेंधा नमक
कैसे इस्तेमाल करें?
  • लहसुन की कली को पीसकर उसे सेंधा नमक के साथ मिला लें। 
  • इसे पीड़ित दांत पर लगा लें।

इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराएं

12. पुदीने की चाय

पुदीना आपके मुँह के पीड़ित स्थान को सुन्न कर देता है इसमें मौजूद मेथोल दांत को ठंडक का एहसास देता है और सूजन और दर्द को कम कर देता है

सामग्री:
  • 1 चम्मच सूखा हुआ पुदीना
  • 1 कप गर्म पानी
कैसे इस्तेमाल करें?
  • पुदीने की पत्तियों को उबलते हुए पानी में 20 मिनट तक रख दें। 
  • इसे छान कर, ठंडा कर लें और फिर इससे कुल्ला करें।

इस प्रक्रिया को तब तक दोहराएं जब तक आराम न मिल जाये

13. हींग

यह तरीका आपका दर्द बहुत जल्दी ठीक कर देता है और यदि यह दर्द कैविटी के कारण होता है तो सबसे कारगार तरीका हींग का इस्तेमाल करना ही होता है। इसमें एंटीवायरल और एंटीफंगल गुण भी होते हैं।

सामग्री:
  • एक चुकती पीसी हुई हींग
  • 1-2 बड़े चम्मच नीम्बू का रस
  • रुई
कैसे इस्तेमाल करें?
  • हींग और नीम्बू के रस को साथ में मिला लें। 
  • इस पेस्ट को हल्का गर्म करें लेकिन ध्यान रखें कि हींग जल न जाए।
  • अब इस पेस्ट में रुई डालें और पीड़ित दांत पर लगायें

यदि ज़रुरत हो तो इसे कुछ घंटों बाद दोहराएं।

14. तेल

इस तरीके को पुराने समय से ही दांत की समस्याओं के निवारण में  इस्तेमाल किया जाता रहा है। नारियल के तेल में लोरिक एसिड पाया जाता है जिसमें एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीमाइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं।

सामग्री:
  • 1-2 बड़े चम्मच नारियल का तेल
  • गर्म पानी
  • टूथब्रश
  • टूथपेस्ट
कैसे इस्तेमाल करें?
  • नारियल के तेल को अपने मुँह में रखकर 20 मिनट तक घुमाएं। 
  • इस तेल को निगलें नहीं। 20 मिनट के बाद इसे थूक दें।
  • गर्म पानी से कुल्ला कर लें
  • रोज़ की तरह टूथपेस्ट से ब्रश कर लें

इसे दिन में दो बार दोहराएं जब तक आपको दर्द से राहत न मिल जाये

15. वैनिला एक्सट्रेक्ट

यदि आपको अपने दर्द से तुरंत राहत चाहिए तो आपको ये तरीका अपनाना चाहिए इसके एंटीसेप्टिक और एनलजेसिक गुणों के कारण ये दांत के दर्द से तुरंत राहत देता है

सामग्री:
  • 2-3 बूँद वैनिला एक्सट्रेक्ट
  • रुई
कैसे इस्तेमाल करें?
  • रुई से वैनिला एक्सट्रेक्ट को सीधा पीड़ित दांत पर लगायें

इसे ज़रुरत के अनुसार दोहराएं

About the author

दिव्या

2 Comments

Click here to post a comment

  • मेरे आगे के डॉ दांत टेढ़े हैं जब भी मैं ब्रश करता हूँ तो मशुडों से खून आने लग जाता है पूरा मुह खून से भर जाता है क्या आप कोई उपाय बता सकते हैं ?

  • main jab bhi zyaada thandaa paani peeta hoon to danton mein dard hotaa hai iskaa kya reason hai and ye kaise theek ho saktaa hai?

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!