Sat. May 18th, 2024
    डोनाल्ड ट्रम्प और मून जे इन

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गुरूवार को कहा कि “उन्होंने दक्षिण कोरिया के साथ नए और बड़े व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं।” द हिल द्वारा पोस्ट की गयी वीडियो के अनुसार, डोनाल्ड ट्रम्प और दक्षिण कोरिया के नेता व दोनों देशों के प्रथम महिलाओं ने कहा कि “हाल ही में हमने बड़े और नए व्यापार समझौते को मुक्कमल किया है और यह दोनों तरफ से व्यापार को काफी बढ़ा देगा।”

    डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि “यह बेहद महत्वपूर्ण ट्रांसक्शन है और इसके बाबत हम काफी लम्बे समय से कार्य कर रहे हैं। जिसे पर मतभेद काफी थे।” दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति दो दिवसीय यात्रा पर वांशिगटन आये थे और उन्होंने गुरूवार को डोनाल्ड ट्रम्प से उत्तर कोरिया और व्यापार समझौते के बाबत बातचीत की थी।

    हनोई में अमेरिका और उत्तर कॉरी के बीच बगैर किसी समझौते के बैठक रद्द हो गयी थी और इसकी वजह प्रतिबन्ध थे। इस मुलाकात के रद्द होने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति और उनके समकक्षी मून जे इन के बीच पहली मुलाकात थी।

    इस बैठक के दौरान डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि “वह उत्तर कोरिया पर अभी प्रतिबंधों को लागू रखना चाहते हैं जबकि वह परमाणु निरस्त्रीकरण की वार्ता को पटरी पर लाने के लिए किम जोंग उन के साथ करीबी से कार्य कर रहे हैं।”

    अफवाहों के मुताबिक, अमेरिका और उत्तर कोरिया की तीसरी बैठक में मून जे इन शामिल हो सकते हैं। परमाणु निरस्त्रीकरण की वार्ता वापस पटरी पर लाने और छह दशक कोरियाई जंग को खत्म करना चाहते हैं। साल 1950-53 में कोरियाई जंग के बाद युद्ध के खत्म होने की कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गयी थी।

    जापान ने मंगलवार को उत्तर कोरिया पर लागू प्रतिबंधों की समयसीमा दो वर्ष अधिक बढ़ाने का निर्णय लिया है। इससे जापान का मकसद उत्तर कोरिया पर परमाणु निरस्त्रीकरण करने के लिए दबाव बनाना था और लम्बे समय से जारी जापानी नागरीकों के अपहरण के मसले को सुलझाना था।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *