गुरूवार, अक्टूबर 24, 2019

“दंगल” में चयन होने से पहले ही सान्या मल्होत्रा को यकीन था कि फिल्म में वह ही अभिनय करेंगी

Must Read

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है।...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते...
साक्षी बंसल
पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

बॉलीवुड अभिनेत्री सान्या मल्होत्रा जिन्होंने फिल्म “दंगल” से बॉलीवुड में डेब्यू किया था, उन्होंने बताया कि कैसे 30 अन्य लड़कियों के साथ फिल्म का ऑडिशन देने के बावजूद भी उन्हें पता था कि फिल्म उन्हें ही मिलेगी।

अपने डेब्यू के बाद से, सान्या ने ‘पटाखा’ और ‘बधाई हो’ जैसी सुपरहिट फिल्मो से दर्शको का दिल जीत लिया है। हाल ही में, उन्होंने अभिनय को लेकर अपने जूनून और फिल्मों के ऑडिशन के ऊपर बात की। हुमंस ऑफ़ बॉम्बे से बात करते हुए उन्होंने कहा-“मैं वो बच्ची थी जो हर शादी में नाचती थी। मुझे संगीत के अलावा किसी प्रोत्साहन की जरुरत नहीं थी। मेरे माता-पिता मुझे हर शादी में ले जाते थे क्योंकि उन्हें पता था कि मैं दिल खोल कर नाचूंगी।”

“मुझे डांस बहुत पसंद था। मैंने कई प्रतियोगिता में भी डांस किया और जब मैं कॉलेज गयी तो मैं कोरियोग्राफी सोसाइटी का हिस्सा थी। हम रोज़ आठ घंटे नाच कर बिताते थे। मैं इतनी जुनूनी थी मगर मेरा असल सपना अभिनय करने का था।”

View this post on Instagram

“I was that kid who danced at every wedding. I didn’t need any kind of incentive–just music! My parents would take me to all the family weddings, because they knew I’d dance my heart out. I loved it so much! I even danced in competitions & when I got to college I was a part of the Choreography Society. We’d spend 8 hours dancing every day! I was so passionate–but my real dream was to act. I never revealed this to anyone back home. I thought I’d be laughed at or ridiculed. After all, it’s a big dream. But I thought maybe, I could get to acting through dancing! So I applied for Dance India Dance & got to the top 100. But I got rejected because my backstory wasn’t strong. That’s when I thought maybe I wasn’t meant to perform at all. That show may have rejected me, but it’s what got me to Bombay. I owed it to myself to at least try. So I told my dad about acting. To my surprise, he was supportive! So I began auditioning. But it was hard–I lived with 6 roommates & there were days when they’d all go out to work & I’d be sitting at home. It was demotivating & I often felt like leaving. But I reminded myself of my dream to perform. Slowly, I learnt the ropes of the business, got in touch with casting directors & acted in ads. There were still months when I didn’t get a call back, & I worried about my dwindling bank balance. But I kept going & ended up doing 10 ads in a year! I built my self-esteem & promised to never doubt myself. Eventually, I got my first audition–Dangal! I remember, I was against 30 other girls, but I just knew I’d be selected. Someone was taking a BTS video & I remember telling her, ‘I’m pakka in this film!’ I was that confident! And I got the role! I’ll never forget that feeling that everything had finally been worth it. I’d loved performing ever since I was a kid & now here I was–on the big screen. Ever since, I’ve relished every single role I’ve done. While I don’t doubt myself anymore, I know I’m still learning. Nobody’s perfect, but that doesn’t mean you can’t try! This is just the beginning, there’s much more to do. But I’ve got my dancing shoes & boxing gloves on–I’m ready!” #PhotographMovie

A post shared by Humans of Bombay (@officialhumansofbombay) on

उन्होंने आगे बताया कि कैसे वह मशहूर रियलिटी शो तक पहुँच गयी थी मगर फिर रिजेक्ट हो गयी। उन्होंने बताया-“मैंने कभी घर पर इसका खुलासा नहीं किया। मुझे लगा कि मेरा मजाक बनेगा। आखिरकार, ये एक बड़ा सपना था। मगर मुझे लगा कि शायद डांसिंग के जरिये मैं अभिनय तक पहुँच जाउंगी। इसलिए मैंने ‘डांस इंडिया डांस’ के लिए अप्लाई किया और टॉप 100 तक पहुँच गयी। मगर मुझे रिजेक्ट कर दिया गया क्योंकि मेरी पृष्ठभूमि की कहानी मजबूत नहीं थी।”

“तब मैंने सोचा कि शायद मैं बिलकुल भी प्रदर्शन करने के लिए नहीं बनी हूँ। उस शो ने मुझे रिजेक्ट कर दिया हो मगर उसने मुझे बॉम्बे तक पहुँचा दिया। मैंने खुद से शपथ ली कि मैं कम से कम कोशिश करुँगी। तो मैंने अपने पिता को अभिनय के बारे में बताया। आश्चर्य से, उन्होंने मेरा समर्थन दिया और मैंने ऑडिशन देने शुरू किये।”

“मगर वो मुश्किल था-मैं 6 लोगों के साथ रहती थी और ऐसे भी दिन थे जब वो सब काम करने जाते थे और मैं घर पर बैठी रहती थी। मैं निराश हो जाती थी और अक्सर मेरा मन करता था कि मैं छोड़ दूँ। मगर मैं खुद को अपना सपना याद करवाती थी। धीरे धीरे, मैं व्यापार की बारीकियां सीखने लगी और कास्टिंग निर्देशक से बातचीत कर विज्ञापनों में काम करने लगी। फिर भी ऐसे महीने होते थे जब मुझे वापस कॉल नहीं आता था और मुझे बैंक बैलेंस की चिंता होने लगती थी। मगर मैं फिर भी आगे बढ़ती रही और एक साल में दस विज्ञापन किये। मैंने आत्मविश्वास बढ़ाया और खुद से वादा किया कि अपने ऊपर कभी संदेह नहीं करुँगी।”

“दंगल” के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा-“आखिरकार मुझे मेरा पहला ऑडिशन मिल गया-दंगल। मुझे याद है मैं 30 लड़कियों के खिलाफ थी मगर मुझे बस पता था कि मेरा चयन हो जाएगा। कोई बीटीएस विडियो ले रहा था और मुझे याद है मैंने उनसे कहा-‘मैं पक्का इस फिल्म में हूँ’। मुझमे इतना आत्मविश्वास था। और मुझे किरदार मिल गया।”

“मैं कभी उस अहसास को नहीं भूलूंगी कि आखिरकार सब उसके लायक था। मुझे बचपन से ही प्रदर्शन करना पसंद है और अब मैं यहाँ थी- बड़े पर्दे पर। जबसे मैंने अपने किरदार को अच्छे से जिया है। जबकि मैं खुद पर और संदेह नहीं करती हूँ, मुझे पता है कि मैं अभी भी सीख रही हूँ। कोई परफेक्ट नहीं होता है, मगर उसका ये मतलब नहीं है कि आप कोशिश नहीं कर सकते। ये केवल शुरुआत है, अभी बहुत कुछ है करने के लिए। मगर मुझे डांसिंग और बॉक्सिंग मिल गयी है, मैं तैयार हूँ।”

इस दौरान, सान्या अब नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी के साथ फिल्म ‘फोटोग्राफ’ में नज़र आएँगी।

 

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है। यहां जिला पंचायत सीटों के...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते हुए बुधवार को सभी कंपनियों...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -