Fri. May 24th, 2024
    नरेंद्र मोदी

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को तेलंगाना सरकार द्वारा मुसलमानों को 12 फीसदी आरक्षण के प्रस्ताव पर जमकर बरसे और इसे देश के साथ धोखा करार दिया। उन्होंने कहा कि ये संविधान निर्माता भीम राव आंबेडकर का भी अपमान है।

    एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि महान नेताओं ने संविधान की रचना करते वक़्त देश के बेहतर भविष्य के लिए धार्मिक आधार पर आरक्षण की विरोध किया था।

    राज्य के मुख्यमंत्री के चंदेशेखर राव की आलोचना करते हुए कहा कि ‘मैं आश्चर्यचकित हूँ कि सत्ता के भूखे लोग अपनी कुर्सी बचाने के लिए किस हद तक जा सकते और ऐसे कदम भी उठा सकते हैं।’

    उन्होंने केसीआर पर निशाना साधते हुए कहा “अल्पसंख्यको को आरक्षण देने का खेल, ये देश के साथ गद्दारी है कि नहीं?” उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश को धत्ता बता कर ऐसे फैसले कोई कैसे कर सकता है? उन्होंने रैली में आयी भीड़ से पूछा “क्या ये संवैधानिक संस्था का अपमान नहीं है? क्या ये भीम राव आंबेडकर का भी अपमान नहीं है?”

    उन्होंने टीआरएस अध्यक्ष केसीआर से पूछा “सुप्रीम कोर्ट ने आरक्षण की सीमा 50 फीसदी तय की है। आप इससे आगे नहीं जा सकते। क्या इसका मतलब है कि आप दलितों, एससी, एसटी और ओबीसी का हक़ मार रहे हैं?”

    केसीआर पर हमला करते हुए मोदी ने कहा “अपनी कुर्सी बचाने के लिए आप दलितों, एससी, एसटी और ओबीसी के पीठ में छुरा घोंप रहे हैं।” उन्होंने भीड़ से पूछा – “क्या ऐसा पाप होने देना चाहिए? क्या धर्म के आधार पार आरक्षण मिलना चाहिए?”

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने अपनी रैली में टीआरएस को भाजपा की बी टीम बताया था। उनके आरोपों पर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री ने टीआरएस को कांग्रेस की बी टीम बताया।

    उन्होंने कहा “कर्नाटक चुनाव से पहले नामदार (राहुल गाँधी) ने जेडीएस को भाजपा की बी टीम बताया था लेकिन चुनाव के बाद जेडीएस से हाथ मिलाकर सरकार बना लिया।”

    प्रधानमंत्री ने तेलंगाना में आयुष्मान भारत योजना लागू न करने के लिए केसीआर की आलोचना की। उन्होंने कहा कि जनता की भलाई के लिए केंद्र सरकार ने आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की लेकिन उन्होंने (केसीआर) अपने स्वार्थ के लिए जनता को इस योजना के लाभ से वंचित रखा।

    प्रधानमंत्री ने कहा कि करीब 30,000 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट केंद्र सरकार द्वारा तेलंगाना में लगाए गए हैं इसके अलावा करीब 8,000 करोड़ के रेलवे के प्रोजेक्ट लगाए गए हैं।

    तेलंगाना में 7 दिसंबर को विधानसभा की 119 सीटों के लिए वोट डाले जायेंगे।

    By आदर्श कुमार

    आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *