दा इंडियन वायर » राजनीति » फरवरी के अंत तक तृणमूल में नहीं होगा कोई नेता : भारती घोष
राजनीति समाचार

फरवरी के अंत तक तृणमूल में नहीं होगा कोई नेता : भारती घोष

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों के लिए हर पार्टी एड़ी चोटी का जोर लगाने को तैयार दिख रही है। सभी पार्टियां एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप तेज कर रही हैं। हर पार्टी एक दूसरे को चैलेंज करती दिख रही हैं। आज पश्चिम बंगाल में भाजपा नेता व पूर्व आईपीएस अधिकारी रही भारती घोष ने तृणमूल कांग्रेस पर हमला बोला है।

उन्होंने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस ताश के पत्तों की तरह बिखर जाएगी और फरवरी के अंत तक तृणमूल कांग्रेस में कोई भी नेता नहीं रह जाएगा। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल दौरे पर आए अमित शाह ने भी ममता बनर्जी के संदर्भ में यही बात कही थी। उन्होंने जे पी नड्डा के काफिले पर हमले के बाद कहा था कि जल्द ही ममता बनर्जी की पार्टी में वे अकेली नेता रह जाएंगी। उसके बाद लगातार यह देखा गया कि तृणमूल कांग्रेस से बहुत से बड़े और दिग्गज नेताओं ने अपना दामन  पार्टी से छुड़ा लिया।

भारती घोष ने कहा कि फरवरी तक तृणमूल कांग्रेस में केवल एक परिवार को छोड़कर और कोई नेता नहीं बचेगा। और इसके बाद तृणमूल कांग्रेस का जीत की हैट्रिक लगाने का सपना सपना ही रह जाएगा। पश्चिम बंगाल का चुनाव वाकई दिलचस्प लग रहा है, जहां बीजेपी अपनी पूरी ताकत झोंक चुकी है। वहीं बीजेपी के कई दिग्गज नेता भी यहां रोड शो, रैलियां आदि कर चुके हैं।

वहीं ममता बनर्जी जो पिछले दो बार से विधानसभा चुनाव जीतकर पश्चिम बंगाल पर एकछत्र राज कर रही हैं और हमेशा आक्रामक बनी रहती हैं, वे आजकल चुप चुप सी दिखाई पड़ रही हैं। ऐसे में पश्चिम बंगाल की सियासत में विधानसभा चुनाव का क्या नतीजा होगा यह साफ नहीं हो पा रहा है। लेकिन इतना तय जरूर है कि बीजेपी की पकड़ पश्चिम बंगाल में मजबूत हो चुकी है।

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!