Wed. Apr 17th, 2024

    तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के कार्यकर्ता आज पश्चिम बंगाल हो रहे विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण के मतदान के चलते बिधान नगर निर्वाचन क्षेत्र में एक मतदान केंद्र के पास भीड़ गए। यह घटना सुकांता नगर इलाके में हुई, जिससे चुनाव आयोग को क्षेत्र में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती करने का आदेश जारी करना पड़ा।

    भारी गोलीबारी और बम भी चले

    नदिया जिले के कल्याणी में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच गोलीबारी भी हुई। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर गोलीबारी की और बम भी फेंके गए। दूसरी घटना उत्तरी 24 परगना जिले के संदेशखली में स्थानीय भाजपा नेतृत्व ने आरोप लगाया कि उनके पोलिंग एजेंट को तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा मतदान केंद्र में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई। बर्धमान उत्तर निर्वाचन क्षेत्र के सरायटीकोर गांव में मतदान केंद्र संख्या 72 पर एक भाजपा एजेंट को तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा कथित रूप से पीटा गया है। भाजपा एजेंट के सर पर भी चोटें आई हैं।

    कथित तौर पर मतदाताओं को डराने धमकाने के लिए दोनों दलों ने एक दूसरे को दोषी ठहराया है। अधिकारियों ने कहा कि ईट और पत्थर फेंके गए जिसमें 8 लोग घायल हो गए हैं।

    वर्तमान अग्निशमन सेवा मंत्री और तृणमूल के उम्मीदवार सुजीत बोस ने झड़प के लिए अपने भाजपा प्रतिद्वंदी सब्यसाची दत्ता को जिम्मेदार ठहराया है। सब्यसाची दत्ता तृणमूल के पूर्व नेता थे, जिन्होंने अक्टूबर 2019 में भाजपा में शामिल होने का फैसला लिया था।

    भाजपा के पोलिंग एजेंट की मौत

    इसी बीच उत्तर 24 परगना जिले के कमरहटी इलाके के एक मतदान केंद्र के अंदर भाजपा के पोलिंग एजेंट की मौत की सूचना आई है। चुनाव आयोग ने इस घटना पर रिपोर्ट मांगी है। मृत व्यक्ति के भाई ने बताया कि “उसका नाम अभिजीत सामंत है। किसी ने उसकी मदद नहीं की और यहां इलाज की भी कोई सुविधा नहीं है”।

    By दीक्षा शर्मा

    गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय, दिल्ली से LLB छात्र

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *