Sun. Jan 29th, 2023
    भाकपा

    चेन्नई, 13 मई (आईएएनएस)| भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) ने सोमवार को वेदांता और ओएनजीसी जैसी कंपनियों को तमिलनाडु में हाइड्रो-कार्बन कुओं की खुदाई के लिए पर्यावरण प्रभाव आकलन करने की इजाजत देने के लिए कड़ा विरोध जताया।

    यहां जारी एक बयान में भाकपा की तमिलनाडु इकाई के सचिव आर.मुथरासन ने कहा कि ऐसे समय में जब कावेरी डेल्टा क्षेत्र को कृषि क्षेत्र घोषित करने की मांग है, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुवाई वाली केंद्र सरकार का हाइड्रो-कार्बन खोज के लिए बहुराष्ट्रीय कंपनियों को समर्थन देना जारी है।

    मुथरासन ने केंद्र के नागपट्टनम, कुड्डालोर (तमिलनाडु) व कराइकल (पुडुचेरी) में हाइड्रो-कार्बन कुओं की खुदाई की इजाजत की निंदा की।

    उन्होंने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के.पलनीस्वामी के इस घटनाक्रम को लेकर चुप्पी पर सवाल उठाया।

    मुख्य विपक्षी पार्टी द्रमुक, पट्टाली मक्कल कांची (सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक गठबंधन का हिस्सा) व अन्य ने इस परियोजना को लेकर विरोध जताया है।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *