Mon. Mar 4th, 2024
    डोनाल्ड ट्रम्प और शिजो आबे

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोमवार को कहा कि “उनकी जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे से उत्तर कोरिया और व्यापार के मसले पर बेहतरीन चर्चा हुई थी। हाल ही में जापान के प्रधानमंत्री ने वांशिगटन की यात्रा की थी।

    डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट कर कहा कि “प्रधानमंत्री आबे से उत्तर कोरिया और व्यापार के मसले पर बातचीत की और काफी बेहतरीन चर्चा थी।”

    https://twitter.com/realDonaldTrump/status/1125397761204072449

    जापान के पीएम से बातचीत

    डोनाल्ड ट्रम्प और शिजो आबे के बीच टेलीफ़ोन पर बातचीत उत्तर कोरिया द्वारा कई प्रोजेक्टाइल को समुन्द्र में दागा था। इसके बाद व्हाइट हाउस ने दोनों नेताओं के बीच चर्चा का बयान जारी किया। इसके मुताबिक, दोनों नेताओं ने उत्तर कोरिया के मसले पर प्रगति और अंतिम व पूर्ण निरीक्षित परमाणु निरस्त्रीकरण को हासिल करने में अमेरिका-जापान की एकता को सुनिश्चित किया था।

    बीते माह शिजो आबे ने अमेरिका की यात्रा की थी और यहां उन्होंने राष्ट्रपति के साथ उत्तर कोरिया की परमाणु निरस्त्रीयकरण प्रक्रिया के बाबत चर्चा की थी। इस माह के अंत में डोनाल्ड ट्रम्प जापान की यात्रा पर जायेंगे। उत्तर कोरिया पर प्रतिबन्ध जारी रखने में जापान ने अमेरिका का समर्थन किया है।

    परमाणु निरस्त्रीकरण

    इससे कम्युनिस्ट राष्ट्र को परमाणु और बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम को ध्वस्त करने एक लिए दबाव बनाया जा सकता है। डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन ने फरवरी में वियतनाम में दूसरी मुलाकात की थी। प्रतिबंधों से रिआयत के मतभेद को दोनों पक्ष सुलझाने में असफल रहे थे और नतीजतन बगैर किसी समझौते के इस सम्मलेन का अंत कर दिया गया था।

    प्रतिबंधों से रिआयत के कारण दोनों पक्षों के बीच बातचीत की प्रक्रिया ठप पड़ी हुई है। पियोंगयांग की मुताबिक, अमेरिका को परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए पहले प्रतिबंधों को आसान करना होगा जिसके लिए इस वर्ष के अंत तक की समयसीमा दी गयी है।

    अमेरिका के अनुसार जब तक उत्तर कोरिया पूर्ण, निरीक्षित परमाणु हथियारों को नष्ट नहीं कर देता, प्रतिबंधों से निजात देना मुमकिन नहीं है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *