Tue. Jul 23rd, 2024
    केदार जाधव

    केदार जाधव, भारत के मध्य-क्रम बल्लेबाज, ने अपने लगातार अच्छे प्रदर्शन का पूरा श्रेय भारतीय टीम प्रबंधन को दिया है, उन्हे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने शानदार प्रदर्शन के लिए हैदराबाद में खेले गए पहले वनडे मैच में मैन ऑफ द मैच से भी नवाजा गया था।

    जाधव ने 81 गेंदो में 87 रन की नाबाद पारी खेल विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धोनी (59) के साथ पांचवे विकेट के लिए 141 रन की नाबाद साझेदारी की। जिससे भारतीय टीम पहला वनडे मैच 6 विकेट से जीतने में कामयाब रही। जाधव ने इस मैच में गेंदबाजी करते हुए भी अहम भूमिका निभाई और क्रीज पर टिके हुए मार्कस स्टोनिस का विकेट लिया।

    जाधव का साल 2018 बहुत मुश्किल भरा रहा- क्योंकि उन्हें आईपीएल 2018 के दौरान घुटने की चोट के कारण टीम से बहुत समय तक बाहर रहना पड़ा- और जब वह लौटे है तो भारतीय टीम के लिए एक अहम भूमिका निभा रहे है। उन्होने इस साल खेले 7 वनडे मैचो में दो अर्धशतक और चार महत्वपूर्ण वनडे विकेट भी चटकाए है। अपने इस शानदार प्रदर्शन से, वह इस समय नंबर-6 स्लॉट के लिए सबसे आगे है और वह विश्व कप की टीम में भी इस नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए दिखाई दे सकते है।

    जाधव ने चहल टीवी पर कहा, ” यह अच्छा है कि भारत के लिए लगातार खेलने का मौका मिल रहा है और मैं अच्छा कर रहा हूं। हर कोई टीम में मुझे बढ़ावा दे रहा है, जबकि मैं कई बार इंजरी हुई है। हर बार मैंने खुद को फिट बनाकर टीम में जगह बनाई है।”

    “मेरे कठिन समय में मुझे समर्थन देने के लिए कप्तान और प्रबंधन को श्रेय जाता है और यह मेरा समय है कि जो विश्वास और समर्थन उन्होने मेरी तरफ दिखाया मैं उसका भुगतान कर सकूं।”

    अभी तक भारतीय मध्य-क्रम को लेकर कई सवाल उठाए जा रहे थे, लेकिन शनिवार को जाधव और धोनी ने अपनी बेहतरीन साझेदारी से इस चिंता को दूर कर दिया। जब विराट कोहली और रोहित शर्मा का एक के बाद एक विकेट गिरा तो इन दोनो खिलाड़ियो ने साथ पारी की शुरूआत की और आराम-आराम से बल्लेबाजी करते हुए दोनो खिलाड़ियो ने एक बड़ी साझेदारी बनाई। जाधव ने आखिरी में अपनी पारी की गति को बढ़ाते 50 ओवर से पहले ही टीम इंडिया को जीत दर्ज करवा दी थी।

    ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक और विजय शंकर को भी मिडल-ऑर्डर में कई बार मौके दिए गए है लेकिन वह जाधव की तरह इस नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए अपना प्रभाव छोड़ने में असफल रहे।

    जाधव ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस कहा, ” मुझे नंबर-6 पर बल्लेबाजी करते हुए डेढ़ या दो साल से अधिक हो गए है। साल 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ, मैं नंबर-6 पर बल्लेबाजी कर रहा हूं। अब टीम प्रबंधन इस नंबर पर मुझे एक फिनिशर के रूप में भी देखती है।”

    “उन्होंने मुझे स्पष्ट रूप से कहा है कि, जब तक तुम वहाँ हो, तुम नंबर 6 पर बल्लेबाजी करोगे ‘ प्रबंधन हर किसी की भूमिका के बारे में स्पष्ट है, और हर कोई इस बारे में स्पष्ट है कि व्यक्तिगत खिलाड़ियों से क्या अपेक्षा है। ”

    भारत औऱ ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच वनडे मैचो की सीरीज का दूसरा मैच 5 मार्च को नागपुर में खेला जाएगा।

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *