Sun. Oct 2nd, 2022
    विराट-धोनी

    दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर जोंटी रोड्स ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और वर्तमान कप्तान विराट कोहली की कप्तानी शैली में मुख्य अंतर बताया है। रोड्स ने अपनी राय रखते हुए कहा है कि धोनी खेल के मानसिक पहलू को शानदार ढंग से नियंत्रित करते हैं जबकि दूसरी ओर कोहली इस मुद्दे को बल देना पसंद करते हैं और ‘खेल पर अपनी मुहर लगाते हैं’।

    रोड्स ने इंडिया टुडे के हवाले से कहा, ” धोनी का उदाहरण फिटनेस और नियंत्रण मानसिकता पर अविश्वसनीय मानको को स्थापित करने का था। इसलिए नेतृत्व की विभिन्न शैलियां हैं। कोहली की शैली गले के फंदे द्वारा चीजो को लेने के है और वह खेल पर अपनी मुहर लगाना पसंद करते है।”

    हाल ही में कप्तान विराट कोहली धोनी की प्रशंसा से भरे थे और उन्होंने यह भी खुलासा किया कि भारतीय टीम के लिए क्या अपरिहार्य है। धोनी भारतीय टीम के लिए 2004 में डेब्यू करने के बाद से ही टीम का अभिन्न हिस्सा बने हुए है। धोनी ने टीम के लिए तीन आईसीसी ट्रॉफी जीती है- जिसमें टी-20 विश्वकप, चैंपियंस ट्रॉफी और 50 ओवर का खेल शामिल है।धोनी ने खेल के एक सूक्ष्म विचारक की प्रतिष्ठा अर्जित की है।

    कोहली ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में कहा था, ” मैं उनके बारे में क्या कह सकता हूं। मेरा करियर उनकी कप्तान में शुरु हुआ है और कुछ खिलाड़ी उन्हे पिछले कुछ साल से बहुत करीब से देख रहे है। एमएस में एक बात हमेशा खास रही है- वह टीम के हित के बारे में सबसे ज्यादा सोचते है- उनके लिए किसी भी चीज से ऊपर टीम है। सबसे पहले आप यह देख सकते है कि उनके टीम में होने से हमारी टीम कहा खड़ी है। उनके टीम में होने से हमारी टीम सबसे ज्यादा अनुभवी नजर आती है। स्टंप के पीछे से उनके कुछ शिकार, ऐसे होते है जो मैच का रुख बदल देते है यह हमने हाल में आईपीएल में भी देखा है।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.