दा इंडियन वायर » व्यापार » जीएसटी से विमानन कमानियों को 84 लाख करोड़ का घाटा
व्यापार समाचार

जीएसटी से विमानन कमानियों को 84 लाख करोड़ का घाटा

जीएसटी बदलाव
जी.एस.टी. के लागू होने से देशभर के विमानन कंपनियों को करीबन 84 लाख करोड़ का घाटा होने की सम्भावना है।

जीएसटी के लागू होने से देशभर के विमानन कंपनियों को करीबन 84 लाख करोड़ का घाटा होने की सम्भावना है। कंपनियों ने कहा की अगर सरकार इस नयी कार व्यवस्था को वापस नहीं लेती, तोह सभी कंपनियों को भरी नुक्सान होने वाला है।

एयर इंडिया

सस्ती विमान सेवाएं देने वाली कंपनी एयर इंडिया ने बताया की जी.एस.टी. की वजह से इस छेत्र की सभी कंपनियों को मिलकर साल भर में करीबन 84 लाख करोड़ रूपए का घाटा होने की संभावनाएं हैं। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी निदेशक अमर अबरोल ने कहा कि ‘औसत आधार पर एक परिचालक कंपनी को अतिरिक्त शुल्क के तहत प्रति विमान 837710 करोड़ देने होंगे, जिसमें विमान के आयात पर लगने वाला शुल्क भी शामिल है’।

जाहिर है 1 जुलाई से लागू किये गए जी.एस.टी. टैक्स से देश भर में व्यापारियों को बहुत सी आशंकाएं हैं। ऐसे में केंद्र सरकार इसे दूर करने के लिए काफी कदम उठा रही है।

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!