Mon. Jun 24th, 2024
    दीपा कर्माकर

    भारत की दीपा कर्माकर शुक्रवार को संतुलित बीम फ़ाइनल में जगह बनाने में नाकाम रही क्योंकि उन्होने यहां आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक वर्ल्ड कप के क्वालिफाइंग दौर में निचला 20 वां स्थान हासिल किया।

    25 वर्षीय दीपा अपनी संतुलित बीम में केवल 10.633 स्कोर कर पाई और 25 प्रतियोगियों के बीच 20 वें स्थान पर रही। उन्हे इसमें पेनल्टी अंक भी मिले।

    ऑस्ट्रेलिया के एम्मा नेदोव ने कुल 13.466 अंकों के साथ क्वालिफिकेशन राउंड में शीर्ष स्थान हासिल किया।

    शीर्ष आठ फिनिशर फाइनल राउंड के लिए क्वालीफाई करते हैं।

    हालाँकि, दीपा शनिवार को अपने पालतू पशु तस्करी के फाइनल में भाग ले सकेंगी।

    त्रिपुरा के जिमनास्ट, जिन्होंने 2016 रियो ओलंपिक में वॉल्ट स्पर्धा में चौथा स्थान हासिल किया था, उन्होंने गुरुवार को क्वालीफाइंग दौर में तीसरा स्थान हासिल कर शनिवार को होने वाले फाइनल में जगह बनाई है।

    जिम्नास्टिक विश्वकप के फाइनल राउंड में बनाई जगह

    भारत की दीपा कर्माकर ने गुरुवार को बाकू अज़रबैजान के जिम्नास्टिक विश्व कप के क्वालीफाइंग दौर में तीसरा स्थान हासिल करने के बाद वॉल्ट स्पर्धा के फाइनल में जगह बनाई है।

    25 वर्षीय दीपा, जो इससे पहले साल 2016 रियो अलोंपिक में चौथा स्थान हासिल करने वाली खिलाड़ी बनी थी, उन्होने प्रतियोगिता में पहली बार एक उच्च कठिनाई हैंडफ्रंट 540 वॉल्ट में अपना प्रदर्शन किया।

    उन्होने 14.299 की औसत से दो क्वालीफाइंग राउंड वाल्ट में 14.466 और 14.133 अंक हासिल किए।

    विश्वकप को लेकर कोई दबाव नही

    14 मार्च को शुरू होने वाली इस प्रतिस्पर्धा से पहले कर्माकर ने एक टेलीफोनिक साक्षात्कार में आईएएनएस को बताया: ” प्रशिक्षण बहुत अच्छा चल रहा है। मैं अगरतला में प्रशिक्षण कर रही हूं (त्रिपुरा जहां मेरा गृह राज्य)। मैं यहा अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास कर रही हूं।

    पिछले साल 18वें एशियन गेम्स में अपने निराशाजनक पांचवें स्थान की चर्चा करते हुए उन्होने कहा, “खिलाड़ियों का प्रदर्शन या तो ऊपर या नीचे जाता है। यह हमेशा से ऐसा ही रहा है। उदाहरण के लिए, मैंने एशियाई खेलों में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया … जो भी कारण था।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *