Fri. May 24th, 2024
    रिलायंस जिओ

    भारतीय दूरसंचार की सबसे नयी कंपनी रिलायंस जिओ ने एक साल में 13 करोड़ लोगों को अपने साथ जोड़ लिया है। इसपर कंपनी के मालिक मुकेश अम्बानी ने सभी को बधाई देते हुए कहा कि मुझे गर्व है किस तरह भारत के लोगों ने इस तकनीक को इतना जल्दी स्वीकार किया है।

    पिछले साल सीताम्बर में जिओ ने अपनी सेवाएं भारत में शुरू की थी। शुरूआती ऑफर के दौरान जिओ ने सभी नए ग्राहकों को तीन महीने के लिए मुफ्त डेटा और कालिंग की सुविधा दी थी। इसके बाद कंपनी ने इस ऑफर को तीन महीने और बढ़ा दिया।

    जिओ ने सिर्फ एक महीने में लगभग दो करोड़ लोगों तक अपनी सेवाएं पहुंचा दी थी। इस मौके पर मुकेश अम्बानी ने कहा, ‘पिछले एक साल में हमें देश विदेश में कई मुकाम हासिल किये हैं। लेकिन इस सबसे ज्यादा कुझे जिस बात की ख़ुशी है, वह यह है कि किस तरह देश की जनता ने इस भ्रम को तोडा है कि भारत की जनता विकसित तकनीक नहीं अपना सकता।’

    अम्बानी ने आगे कहा, ‘जिस तरह जिओ के कर्मचारियों ने दिन रात मेहनत करके इस कंपनी को इस मुकाम तक पहुँचाया है, वह वाकई काबिले तारीफ़ है। हमारे साथ 13 करोड़ लोग जुड़ चुके हैं, और इसके लिए आप सभी को ढेर साड़ी शुभकामनाएं।’

    इसी के साथ भारत के इतिहास में पहली बार इतने लोग इंटरनेट से जुड़े हैं। भारत की दूरसंचार इकाई, ट्राई की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 100 करोड़ से ज्यादा लोग दूरसंचार की सेवाओं से जुड़ चुके हैं।

    इसके अलावा भारत में इंटरनेट इस्तेमाल में भी कई गुना की वृद्धि हुई है। एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में पहले एक महीने में करीबन 20 करोड़ जीबी डेटा इस्तेमाल होता था, जो जिओ के आने के बाद 150 करोड़ जी प्रति महीने हो गया। इसमें से करीबन 125 करोड़ जीबी जिओ के ग्राहक इस्तेमाल कर रहे हैं।

    इसके साथ ही भारत जहाँ पहले इंटरनेट इस्तेमाल करने की सूचि में विश्व में 155 वे स्थान पर था, अब पहले नंबर पर है।

    जिओ विश्व की पहली सेवा बनी है, जो एक महीने में 100 करोड़ जीबी से ज्यादा इंटरनेट उपलब्ध करा रही है। जितना डेटा भारत की अगली पांच कंपनी मिल कर उपलब्ध करा रही है, उससे ज्यादा अकेले जिओ अपने ग्राहकों को दे रही है।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।